Top
Begin typing your search...

चंपत राय बोले- 'राम मंदिर निर्माण के लिए अब तक एक हजार करोड़ रु. से अधिक की राशि हुई इकट्ठा'

1 लाख 50 हजार टोलियां पूरे देश में अभियान को चला रहे हैं तो वहीं इस अभियान में जुटने वाली निधि को जमा करने के लिए भी 37 हजार लोग बैंकों तक पहुंच रहे हैं।

चंपत राय बोले- राम मंदिर निर्माण के लिए अब तक एक हजार करोड़ रु. से अधिक की राशि हुई इकट्ठा
X

फाइल फोटो : चंपत राय

  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

अयोध्या में बन रहे भव्य राम मंदिर के लिए देश भर में चल रहे निधि समर्पण अभियान अब व्यापक होता जा रहा है. वहीँ श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने एकत्रित हो रही निधि को लेकर बड़ा बयान दिया है. चंपत राय ने कहा है कि अब तक 1000 करोड़ की धनराशि ट्रस्ट के खाते आ चुकी है।

उन्होंने कहा, 1 लाख 50 हजार टोलियां पूरे देश में अभियान को चला रहे हैं तो वहीं इस अभियान में जुटने वाली निधि को जमा करने के लिए भी 37 हजार लोग बैंकों तक पहुंच रहे हैं।

श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने देश में चल रहे निधि समर्पण अभियान को लेकर बताया कि इस अभियान का आकलन हिंदुस्तान में कोई नहीं कर सकता है। राम मंदिर न्यास ने इस कार्य के लिए भारतीय स्टेट बैंक, पंजाब नेशनल बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा में खाते खोले हैं।

'निधि समर्पण अभियान' के तहत 13 करोड़ से ज्यादा परिवारों से सहयोग मांगा जा रहा है। राम मंदिर निर्माण में सहयोग के लिए 10 रुपए, 100 रुपए या 1000 रुपए के कूपन उपलब्ध हैं। इन कूपन के माध्यम से ही श्रद्धालुओं से सहयोग राशि ली जा रही है। VHP ने स्वयंसेवक नियुक्त किए हैं, जो 5 लाख 50 हजार गांव तक डोर टू डोर कैंपेन करेंगे। 27 फरवरी को 'निधि समर्पण अभियान' का समापन होगा। अभियान का लक्ष्य 65 करोड़ लोगों तक पहुंचना है।

आपको बता दें, राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र न्यास के एक महत्वपूर्ण पदाधिकारी ने कहा था कि अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण कार्य करीब तीन साल में पूरा होगा और उसपर करीब 1,100 करोड़ रुपये से ज्यादा की लागत आने की संभावना है।

दरअसल मंदिर निर्माण के लिए 15 जनवरी से शुरू हुए 42 दिन के निधि समर्पण अभियान में दूसरे चरण के तहत डोर टू डोर कार्यकर्ता पहुंच रहे हैं जब कि इस अभियान में अभी 26 दिन पूरे हुए हैं।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it