Begin typing your search...

अयोध्या के कल्चर से रूबरू हुए मॉरीशस के राष्ट्रपति, कहा महान है भारतीय कल्चर

अयोध्या के कल्चर से रूबरू हुए मॉरीशस के राष्ट्रपति, कहा महान है भारतीय कल्चर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अयोध्या: अयोध्या पहुंचे मॉरीशस के राष्ट्रपति पृथ्वी राज सिंह रूपन को भारतीय परंपरा और अयोध्या नगरी भा गई। इस दौरान उन्होंने अपनी पत्नी के साथ अयोध्या में राम जन्मभूमि पर रामलला का दर्शन किया मंदिर निर्माण के कार्य को भी देखा अयोध्या की प्राचीन विरासत से जुड़ी हनुमानगढ़ी और कनक भवन पर भी दर्शन पूजन किया जिसके बाद सीधे सरयू तट पर पहुंच आरती उतारी। दसराज मॉरीशस के राष्ट्रपति 4 घंटे से अधिक समय अयोध्या में बिताने पहुंचे थे इस दौरान उन्होंने अयोध्या आने का सौभाग्य बताया है और प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भी धन्यवाद दिया।

अयोध्या पहुंचे मॉरीशस के राष्ट्रपति ने कहा कि यह मेरा सौभाग्य है प्रभु श्रीराम हमको अयोध्या बुलाए यह अवसर सबके भाग्य में नहीं मिलता भगवान नहीं हम को संदेश दिया है यहां आने का मॉरीशस के राष्ट्रपति पृथ्वीराज सिंह रूपन ने कहा कि वसुदेव कुटुंबकम के तहत यह पूरी धरती एक परिवार है और यही हिंदू धर्म की विशेषता भी है सभी एक साथ रहने और जीने का संदेश देती है भारत सरकार की प्रशंसा करते हुए कहा कि जो काशी में काम किया है वह हमारे लिए ही नहीं आगामी पीढ़ी के लिए भी काशी को सुरक्षित किया गया है इसके लिए हम तहे दिल से धन्यवाद देते हैं। मॉरीशस के राष्ट्रपति ने कहा कि मॉरीशस में भी सनातन धर्म को विशेष मान्यता देते हैं रामनवमी शिवरात्रि होली और दुर्गा पूजा दशहरा मॉरीशस में उसी तरह मनाया जाता है जैसा कि भारत में..... वही अयोध्या के अलावा कहां-कहां गए इस पर बोलते हुए कहा कि जहां से भी बुलावा आएगा वहां वहां जाएंगे भारत में हम कई जगह पूजा और तीर्थाटन करना चाहेंगे जब भगवान बुलाएंगे तो दूसरे तीर्थ स्थलों पर भी जाएंगे मॉरीशस के राष्ट्रपति ने कहा कि हम पहले प्रयागराज भी गए हैं वाराणसी भी गए हैं साउथ में भी गए हैं मुंबई के सिद्धिविनायक में भी हमने दर्शन पूजन किया था जहां से प्रभु का बुलावा आता है हम हर उस दरबार में जाते हैं।

200 वर्षों से मारीशस में भी है भारतीय परंपरा

वहीं कनक भवन दर्शन के उपरांत मॉरीशस के राष्ट्रपति ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात के बाद उन्होंने अयोध्या आने के लिए निमंत्रित किया था मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कृपा से मैं अयोध्या पहुंचा हूं । वहीं कहा कि मुझे सौभाग्य मिला है हनुमान जी राम जी और सीता माता के दर्शन का... मैंने और मेरी पत्नी ने यहां पर दर्शन पूजन किया है मंदिर निर्माण में जो इंजीनियर और वर्कर लगे हैं सबको एक जिम्मेदारी मिली है मॉरीशस के राष्ट्रपति ने कहा कि इतिहास फिर से दोहराया जा रहा है राम जन्म भूमि की जो इतिहास आगामी पीढ़ी अभी उसको देखेंगे राम मंदिर निर्माण बहुत ही महत्वपूर्ण कार्य हो रहा है और कहा कि हमारे पूर्वज काफी सालों पहले भारत से मॉरीशस पहुंचे थे 200 साल से पहले मॉरीशस में भी सनातन धर्म को मानते हैं हम रामायण को मानते हैं पूजा करते हैं क्योंकि भारतीय संस्कृति बहुत ही महान है।

सुरेन्द्र प्रताप सिंह

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it