Top
Begin typing your search...

मांगे न मानने पर भाकियू ने भेड़ो के साथ निकाला विशाल जुलूस

एसडीएम को सौंपा 9 सूत्रीय ज्ञापन

मांगे न मानने पर भाकियू ने भेड़ो के साथ निकाला विशाल जुलूस
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

बिंदकी/फतेहपुर । अनिश्चितकालीन धरने पर बैठे भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओ की जब मांगें पूरी नहीं हुई तो उन्होंने भेड़ों के साथ विशाल जुलूस निकाल दिया, जिसकी सूचना मिलने पर पुलिस ने जुलूस को रोकने की कोशिश की किंतु यूनियन के लोग मानने को कतई तैयार नहीं हुए। जानकारी मिलने पर एसडीएम विजय शंकर तिवारी रास्ते में पहुंचे और लोगों को समझाया कि उनकी मांगे जरूर पूरी करवाई जाएंगी। तब जाकर जुलूस को समाप्त करने पर यूनियन के लोग राजी हुए।

आपको बता दें कि गुरुवार को नाराज भारतीय किसान यूनियन टिकैत गुट के लोगों ने सैकड़ों भेड़ों के साथ एक बड़ा जुलूस निकाला। यह जुलूस खजुहा ब्लाक क्षेत्र के भवानीपुर गांव से प्रारंभ हुआ जहां पर वे सभी अनिश्चितकालीन पिछले 8 दिनों से धरने पर बैठे थे। भेड़ों के साथ भारतीय किसान यूनियन के नेता पदाधिकारी तथा कार्यकर्ता पैदल चल रहे थे और जमकर प्रशासन के विरुद्ध नारेबाजी कर रहे थे। हालांकि जुलूस निकाले जाने की जानकारी पुलिस को हुई तो भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा और यूनियन के लोगों को समझा कर जुलूस रोकने की कोशिश की लेकिन यूनियन के लोग कुछ भी मानने को तैयार नहीं हुए। उनका कहना था कि जब तक कोई बड़ा अधिकारी मौके पर नहीं आएगा तब तक जुलूस रोका नहीं किया जाएगा।

तभी उपजिलाधिकारी विजय शंकर तिवारी पहुंचे लेकिन तब तक उनका जुलूस खिदिरपुर गांव के पास जय गुरुदेव मंदिर तक पहुंच चुका था। वहीं पर यूनियन के लोगों ने 9 सूत्रीय ज्ञापन एसडीएम को सौंपा जिसमें मांग थी कि निचली गंगा नहर में पानी छोड़ा जाए, मंडराव गांव में बंद पड़ी पानी की टंकी को चालू किया जाए, मडराव गांव में पानी की टंकी के समीप लगने वाला बाजार रामलीला मैदान में भेजा जाए तथा गांव में सरकारी जमीन में जो दबंगों का कब्जा करने का प्रयास किया जा रहा है उसको रोका जाए और काशीराम कॉलोनी में कुछ कालोनियों में दबंगों का कब्जा है उनको हटाया जाए और पात्र लोगों को आवंटित किया जाए।

साथ ही गेहूं क्रय केंद्र में जिन किसानों ने गेहूं बेचा है उनके खाता में रुपया भेजा जाए व बिजली की पुरानी व जर्जर तार को हटाकर नए लगवाए जाने के साथ पुलिस चौकी सरकंडी में पुलिस फोर्स तैनात किया जाए और 11 वर्षों से अधूरा पड़ा बिंदकी बाईपास बनवाने का काम किया जाए। इस अवसर पर बाबू सिंह, अंगद सिंह चंदेल, रतन सिंह, जय सिंह, राकेश कुमार, सुखीराम, गजेंद्र सिंह, सहित सैकड़ों किसान यूनियन के कार्यकर्तागण उपस्थित रहे।

Vivek Mishra
Next Story
Share it