Top
Begin typing your search...

बिना सफाई इस विभाग में होती है रुपयों की सफाई, सीएम से जांच की मांग

बिना सफाई इस विभाग में होती है रुपयों की सफाई, सीएम से जांच की मांग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फ़तेहपुर । सिंचाई विभाग पहले से ही नहरों की सफाई को लेकर सवालो के घेरे रहा है। पूर्व के वर्षों में बिना सफाई कराए रुपयों का बंदरबांट सबसे अधिक इसी विभाग में हुआ है। विभाग पर फिर मनमानी करने व शासन की गाइड लाइन के इतर काम करने का आरोप लगा है।

आवास विकास निवासी सौरभ सिंह पटेल ने मुख्यमंत्री पोर्टल पर शिकायत दर्ज करवा कर पूरे प्रकरण की जांच की मांग की है। शिकायतकर्ता सौरभ पटेल ने बताया कि सिंचाई खण्ड व निचली गंगा प्रखंड में सब डिवीजन के कार्यों में भारी बंदरबांट हो रहा है। उन्होंने बताया कि बिना निविदा निकाले मनमानी ढंग से ठेकेदारों से बीस फीसदी एडवांस रकम जमा कराई जा रही है जिन ठेकेदारों ने बीस फीसदी रकम नहीं जमा की उनको सब डिवीजन के कार्यों में भाग लेने से मना किया जा रहा है।

शिकायत कर्ता ने यह भी बताया कि शासन की गाइड लाइन है कि बीस हजार से ऊपर के कार्यो में निविदा अखबारों में प्रकाशित की जाए मगर शासन की गाइड लाइन को दर किनार कर विभाग में कमीशन बाजी के चक्कर मे पूरे खेल को अंजाम दिया जा रहा है। शिकायतकर्ता ने मुख्यमंत्री पोर्टल व जिलाधिकारी अपूर्वा दुबे से विभाग के अनुबंधों व निविदा की दरों की जांच कराए जाने की मांग की है।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it