Top
Begin typing your search...

सड़क हादसे मे एक ही परिवार के चार लोगों की मौत

शिक्षिका समेत मासूम पुत्र गम्भीर रूप से घायल

सड़क हादसे मे एक ही परिवार के चार लोगों की मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

खागा/फतेहपुर । कोतवाली क्षेत्र के नेशनल हाइवे स्थित खासमऊ के पास खड़े ट्रेलर में कार घुसने से कार सवार रेलवे टेक्नीशियन व उसके व्रद्ध पिता समेत दो नाबालिग पुत्रियों की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकी कार चालक टेक्नीशियन की प्रवक्ता पत्नी समेत तीन वर्ष का अबोध पुत्र अन्यास गम्भीर रूप से घायल हो गया।

जानकारी के अनुसार कानपुर चकेरी नगर निवासी रेलवे टेक्नीशियन अमर सिंह 45 वर्षीय की 42 वर्षीय पत्नी नीलम सिंह जो की प्रतापगढ़ के राजकीय इण्टर कालेज में अंग्रेजी प्रवक्ता के पद पर तैनात थी। जो कि अपनी दो पुत्रियों तन्नू 12 वर्षीय, अनन्या 9 वर्षीय व तीन वर्षीय अबोध पुत्र अन्यास के साथ विद्यालय के ही हॉस्टल में रहती थीं। जबकि पति अपने ग्रह जनपद कानपुर में रहते थे। बीते कुछ दिनों पूर्व शिक्षिका का स्थानांतरण उन्नाव जनपद के लिये हो गया था। शुक्रवार को रेलवे टेक्नीशियन पति अमर सिंह अपने व्रद्ध पिता रामकिशोर 65 वर्षीय के साथ निजी कार से पत्नी व बच्चों को बुलाने प्रतापगढ़ गये थे। जहाँ से शनिवार को वो अपनी शिक्षिका पत्नी नीलम सिंह, व्रद्ध पिता रामकिशोर, पुत्रियों तन्नू व अनन्या के साथ कार से वापस अपने घर कानपुर चकेरी लौट रहे थे। कार उनकी शिक्षिका पत्नी नीलम सिंह चला रही थीं। जबकी टेक्नीशियन अमर सिंह बगल वाली सीट में सवार थे। इसी दौरान जैसे ही कार खागा कोतवाली क्षेत्र के खासमऊ मोड़ के नजदीक पहुँची अनियंत्रित होकर सड़क किनारे खड़े ट्रेलर में पीछे से जा घुसी। कार के परखच्चे उड़ गये।

फलस्वरूप कार सवार रेलवे टेक्नीशियन अमर सिंह, पिता रामकिशोर समेत दो पुत्रियों तन्नू व अनन्या की मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गई। जबकि कार चालक शिक्षिका नीलम सिंह समेत उनका तीन वर्षीय अबोध पुत्र अन्यास गम्भीर रूप से घायल हो गया। घटना की सूचना पाकर पहुँची पुलिस ने मृतकों के शवों को अपने कब्जे में लेकर घायल माँ बेटे को आनन फानन 108 एम्बुलेंस की सहायता से इलाज के लिये जिला अस्पताल में भर्ती कराया। जहाँ डाक्टरों ने प्राथमिक उपचार के बाद घायल माँ बेटे की नाजुक हालत को देखकर कानपुर के लिये रिफर कर दिया।

जहाँ समाचार लिखे जाने तक दोनों की हालत लगातार चिंताजनक बनी हुई थी।

जबकी ट्रेलर चालक ट्रेलर समेत मौके से फरार हो गया। आकस्मिक घटित घटना की सूचना मिलते ही मृतकों के स्वजनों में कोहराम मच गया।

Vivek Mishra
Next Story
Share it