Top
Begin typing your search...

राम मन्दिर निर्माण के लिए सरकार प्रतिबद्ध, दो वर्ष में होगा तैयार : स्वामी आत्मानंद सरस्वती

अयोध्या में भगवान श्री राम का बनने वाला भब्य मन्दिर विश्व की प्रमुख धरोहरों में से एक होगा

राम मन्दिर निर्माण के लिए सरकार प्रतिबद्ध, दो वर्ष में होगा तैयार : स्वामी आत्मानंद सरस्वती
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फतेहपुर : मंगलवार को एक प्रेस कांफ्रेंस के दौरान अयोध्या में राम मन्दिर निर्माण की स्थितियों को स्पष्ट करते हुए रामजन्म भूमि मन्दिर निर्माण न्यास अयोध्या के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष स्वामी आत्मानंद सरस्वती ने पत्रकारों से कहा कि श्री राम जन्मभूमि अयोध्या में भगवान राम के भब्य मन्दिर का निर्माण कार्य दो वर्ष के अन्दर पूरा किया जाएगा। साथ ही साथ अब आगे कृष्ण जन्म भूमि के मुद्दे को लेकर आगे बढ़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार हिन्दू हित की बात करती है। योगी और मोदी के नेतृत्व में हिन्दू समाज अपने को गौरवान्वित महसूस कर रहा है। सन्त समुदाय को साथ लेकर अब आगे मथुरा में कृष्ण जन्म भूमि पर भी निर्णायक पहल की जाएगी। सन्त श्री सरस्वती ने कहा की हम लोग भागवत के माध्यम से हिन्दू समाज को संगठित करने का कार्य कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि अयोध्या में भगवान श्री राम का बनने वाला भब्य मन्दिर विश्व की प्रमुख धरोहरों में से एक होगा। जो कि विश्व के सनातन धर्म का सबसे बड़ा तीर्थ स्थल कहलाएगा। मन्दिर को दो वर्ष के अन्दर बनकर जनता के दर्शनार्थ समर्पित कर दिया जाएगा।

इस अवसर पर आरएसएस कार्यकर्ता सुशील शुक्ला, सुरेश अग्निहोत्री, बब्लू सिंह, दिनेश तिवारी, शुभम दुबे, संदीप मिश्रा, शैलेन्द्र विश्वकर्मा, सोनू दिवाकर, अमन तिवारी, श्यामू सोनी समेत सैकड़ो हिन्दू समाज व आर एस एस कार्यकर्ता मौजूद रहे।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it