Begin typing your search...

यूपी: ठाकुरद्वारा से बेशकीमती श्रीकृष्ण व राधा जी की मूर्तियां चोरी

16 फ़ीट की बाउंड्री फांदकर घुसे थे चोर

यूपी: ठाकुरद्वारा से बेशकीमती श्रीकृष्ण व राधा जी की मूर्तियां चोरी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

फतेहपुर । जहानाबाद में चोरी की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही है। चोरों ने गुरुवार की रात्रि ठाकुरद्वारा में धावा बोलकर बेशकीमती मूर्तियां चुरा ली। मंदिर के संरक्षक ने इसकी तहरीर थाने में दी है। कस्बे के मोहल्ला लालूगंज स्थित प्राचीन बड़ा ठाकुरद्वारा जो लगभग 350 वर्ष पहले राव लाल बहादुर सिंह ने निर्माण कराया था जिसमें उन्होंने भगवान श्री कृष्ण राधा जी व बालस्वरूप कृष्ण की मूर्तियों की प्राण प्रतिष्ठा कराई थी।

गुरुवार की देर शाम पुजारी उमाकांत बाजपेई ने भगवान की आरती व भोग लगाकर मंदिर बंद किया था। शुक्रवार की सुबह जब वह पूजा अर्चन के लिए मंदिर पहुंचे तो मंदिर के दरवाजे खुले थे तथा वहां रखी श्री कृष्ण भगवान व बाल गोपाल की मूर्तियां नहीं थी। मंदिर में इधर-उधर देखा गया तो पता लगा कि मूर्तियों की चोरी मंदिर के पीछे लगभग 16 फीट ऊंची बाउंड्री को पार कर चोरों ने पीछे के दरवाजे पर लगा ताला तोड़कर तथा अंदर घुस कर की है। जिसकी सूचना राव लाल बहादुर के वंशज कुंवर जितेंद्र प्रताप सिंह को पुजारी ने दी। कुंवर जितेंद्र प्रताप सिंह ने ठाकुरद्वारा जा कर देखा और थाने में मूर्तियां चोरी होने की सूचना दी।

उन्होंने बताया कि दोनों मूर्तियां काले रंग की धातु की थी स्पष्ट नहीं है मूर्तियां किस धातु की थी। जितेंद्र प्रताप सिंह ने बताया कि यह मंदिर उनके पूर्वज राव लाल बहादुर सिंह ने बनवाया था इसी के साथ ठाकुरद्वारा के सामने पक्का तालाब भी बनवाया था जो आज से लगभग 350 साल पुराना है। मंदिर काफी जीर्ण हो गया था जिसका जीर्णोद्धार का कार्य लगभग 5 माह से बराबर चल रहा है।

इसी दौरान चोरी की घटना हो गई। इसके पहले भी कई बार चोरों ने मूर्तियां चुराने का असफल प्रयास किया है। थाना प्रभारी निरीक्षक राकेश पांडे ने बताया कि चोरी की घटना की सूचना मिली है इस संबंध में वहां कार्य कर रहे लोगों से पूछताछ कर रहे है घटना का खुलासा शीघ्र अति शीघ्र किया जाएगा।



Vivek Mishra
Next Story
Share it