Top
Begin typing your search...

लोअर पीसीएस में चयनित होकर महिला आरक्षी ने बढ़ाया खाकी का मान

अर्चना गुप्ता प्राथमिक शिक्षा गाँव मे प्राप्त कर हाई स्कूल, इंटरमीडिएट व स्नातक की शिक्षा खरेला कस्बे के एक निजी स्कूल से प्राप्त की।

लोअर पीसीएस में चयनित होकर महिला आरक्षी ने बढ़ाया खाकी का मान
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

फतेहपुर । पुरानी कहावत है प्रतिभा किसी सहारे की मोहताज नहीं होती। जिसे चरितार्थ कर दिखाया है पुलिस कार्यालय में प्रधान लिपिक के पद पर तैनात महिला आरक्षी अर्चना गुप्ता ने। जिन्होंने अपनी लगन व मेहनत के बलबूते अधीनस्थ सेवा चयन आयोग द्वारा आयोजित लोवर पीसीएस परीक्षा में 531वीं रैंक पाकर क्षेत्रीय युवा कल्याण एवं विकास दल अधिकारी बन कर ना सिर्फ अपने माता पिता व जिले का मान बढ़ाया है। बल्कि उन्हें मिली सफलता से जिला पुलिस महकमा भी गौरवान्वित हुआ है।

बता दें कि महोबा जिले के कस्बा खरेला निवासी अर्चना गुप्ता के पिता ब्यवसाई हैं। बड़ी बहन सहायक अध्यापक के पद पर जनपद हमीरपुर में तैनात है। एकलौता भाई है जो पिता का उनके ब्यवसाय में हाथ बंटाता है।अर्चना गुप्ता प्राथमिक शिक्षा गाँव मे प्राप्त कर हाई स्कूल, इंटरमीडिएट व स्नातक की शिक्षा खरेला कस्बे के एक निजी स्कूल से प्राप्त की।

उन्होंने बताया कि उनका चयन इसके पूर्व अन्य परीक्षाओं वर्ष 2017 में ग्राम पंचायत अधिकारी व वर्ष 2019 में दरोगा के पद पर भी हो चुका था। परन्तु उनका लक्ष्य शुरुआती दौर से ही सिविल सर्विस में जाकर देश सेवा का था। जो अब पूरा हुआ। इस सफलता का श्रेय उन्होंने अपनी माता सुशीला गुप्ता व पिता बाबू लाल गुप्ता को दिया है। जिन्होंने उनको हमेशा ही समाज मे ब्याप्त बेटियों के प्रति संकीर्ण मानसिकता को नकारते हुए उनको मेहनत व लगन से अपने लक्ष्य को प्राप्त करने के लिये प्रोत्साहित किया है।

बकौल अर्चना गुप्ता उनकी इस सफलता में बड़ी बहन उमा व छोटी बहन रोशनी व उनके दोस्तों का भी बड़ा योगदान रहा है। प्रधान लिपिक महिला आरक्षी अर्चना गुप्ता के युवा कल्याण एवं विकास दल अधिकारी बनने से उनके स्वजनों समेत शहरवासियों उनके शुभचिंतकों व रिश्तेदारों में खुशनुमा माहौल रहा। वहीं पुलिस कार्यालय में प्रधान लिपिक के पद पर तैनात महिला आरक्षी की इस अपार सफलता पर पुलिस लाइन के कर्मी व अधिकारी ही नहीं बल्कि पुलिस कप्तान सतपाल अंतिल ने भी हर्ष ब्यक्त किया है।

Vivek Mishra
Next Story
Share it