Begin typing your search...

फिरोजाबाद में भीषण सड़क हादसा, श्रमिकों से भरी डीसीएम के उड़ गये परखच्चे

फिरोजाबाद में भीषण सड़क हादसा, श्रमिकों से भरी डीसीएम के उड़ गये परखच्चे
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

फिरोजाबाद. लॉकडाउन के बीच प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के बीच सड़क दुर्घटनाएं थम नहीं रही हैं. यूपी में औरैया में हुए भीषण सड़क हादसे के बाद आज फिरोजाबाद में भी प्रवासी मजदूरों से भरी डीसीएम (छोटा ट्रक) और ट्रक के बीच टक्कर हो गई. टक्कर इतनी जोरदार थी कि डीसीएम के परखच्चे उड़ गए. हादसे में 18 मजदूर गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. हादसा आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर हुआ. हालांकि इस हादसे में किसी भी मजदूर की मौत नहीं हुई, लेकिन क्षतिग्रस्त डीसीएम की तस्वीर से दुर्घटना की गंभीरता का अंदाजा लगाया जा सकता है.

हरियाणा से प्रतापगढ़ जा रहे थे मजदूर

फिरोजाबाद में ट्रक और डीसीएम के बीच इस दुर्घटना में घायल मजदूरों को सैफई के मिनी पीजीआई में भर्ती कराया गया है, जहां एक की हालत चिंताजनक बताई जा रही है. घटना आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर फिरोजाबाद के नगला खंगर इलाके में हुई. एसपी देहात राजेश कुमार ने बताया कि हादसे के शिकार हुए मजदूर हरियाणा से आ रहे थे. इन्होंने किराए पर डीसीएम ली थी. इन सभी को यूपी के प्रतापगढ़ जाना था. एक्सप्रेस-वे पर नंगला खंगर इलाके में मजदूरों से भरी डीसीएम एक ट्रक से टकरा गई, जिससे 18 मजदूर जख्मी हो गए. घायलों को सैफई के मिनी पीजीआई में भर्ती कराया गया है, जहां एक की हालत नाजुक है. बाकी 17 मजदूर खतरे से बाहर हैं और उन्हें शेल्टर होम भेज दिया गया है.

सीएम योगी का आदेश नहीं मान रहा प्रशासन

औरैया सड़क हादसे के बाद यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों को निर्देश दिया था कि लॉकडाउन के बीच किसी भी प्रवासी मजदूर को डीसीएम या ट्रक से नहीं आने दिया जाए. अगर ऐसा कोई ट्रक या अन्य वाहन दिखता भी है तो उसे तत्काल जब्त कर प्रवासी मजदूरों को प्रशासन उनके गंतव्य तक पहुंचाने की व्यवस्था करे. सीएम के इस निर्देश के बावजूद हरियाणा से डीसीएम लेकर आ रहे मजदूर यूपी की सीमा के काफी अंदर तक कैसे आ गए, इसको लेकर सवाल किए जा रहे हैं. हरियाणा से कई जनपदों की सीमा लांघकर फिरोजाबाद तक पहुंची डीसीएम प्रशासनिक अधिकारियों की नजर में कैसे नहीं आई, यह बड़ा सवाल है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it