Begin typing your search...

सादगी के साथ मनाई गई बकरा ईद, घरों में अदा की ईद की नमाज

सादगी के साथ मनाई गई बकरा ईद, घरों में अदा की ईद की नमाज
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

गाजियाबाद। कोरोना संक्रमण के चलते इस बार भी ईद का पर्व बेहद सादगी से मनाया गया। मस्जिदों में सामूहिक नमाज पर रोक लगने के बाद लोगों ने घरों में रहकर ही नमाज अदा की और हर्षोल्लास से ईद का पर्व मनाया। ईद की नमाज के दौरान नमाजियों ने देश में अमन-चैन के साथ ही कोरोना संक्रमण की बीमारी से दुनिया को निजात दिलाने की दुआएं भी मांगीं। कोविड के कारण बड़े स्तर पर ईद पर किसी कार्यक्रम का आयोजन नहीं हुआ। लोगों ने बड़ी संख्या में वीडियो कॉल, फोन के जरिए ही अपने प्रियजनों को ईद की दिली मुबारकबाद दी।

वर्तमान में प्रदेश में कोरोना संक्रमण के मामलों की संख्या कम है लेकिन अभी भी प्रदेश सरकार तीसरी लहर की आशंका को देखते हुए सावधानी बरत रही है। इसके चलते सार्वजनिक कार्यक्रमों पर रोक लगाई गई है। तो वहीं सीएम योगी ने भी लोगों से घरों में ही ईद की नमाज अता करने की अपील करते हुए सामूहिक रूप से नमाज अता करने के निर्देश दिए थे। मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में लोग पर्व मनाने के लिए बड़ी संख्या में एकत्र ना हों, इसके लिए धर्मगुरुओं ने भी लोगों से अपील की जिसका असर पर्व पर देखने को मिला। मस्जिदों में प्रतीकात्मक रूप से नमाज अता की गई तो वहीं बाकी नमाजियों ने घरों में रहकर ही नमाज अदा कर देश में अमन-ओ-चैन की दुआएं मांगीं और कुर्बानी की रस्म अदायगी की। पर्व को देखते हुए सुरक्षा व्यवस्था भी कड़ी रखी गई थी।

सिटी मजिस्ट्रेट विपिन कुमार ने पुलिस बल के साथ कैला भट्टा क्षेत्र का दौरा किया और वहां स्थानीय लोगों से मुलाकात कर शांतिपूर्ण तरीके से पर्व मनाने की अपील की। इस दौरान मोहर्रम कमेटी के अध्यक्ष हाजी चमन, पार्षद जाकिर सैफी सहित अन्य लोगों ने बुके देकर स्वागत किया तो वहीं सिटी मजिस्ट्रेट ने भी लोगों को ईद की मुबारकबाद दी। इसके अलावा शहीद नगर, पसौंडा,लोनी, मसूरी-डासना, अर्थला आदि क्षेत्रों में भी पुलिस बल तैनात रहा। अधिकारी लगातार अपने आवंटित क्षेत्रों का भृमण करते रहे।

वहीं, गौतमबुद्घनगर में ईद-उल-अजहा के पर्व पर लोगों ने घरों में ही नमाज अता की। नमाज के दौरान लोगों ने अपने परिवार की सलामती, देश में अमन, चैन और कोरोना से मुक्ति दिलाने की दुआ मांगी। बकरीद को लेकर पुलिस प्रशासन द्वारा भी कड़े इंतजाम किए गए। कोरोना गाइडलाइन के मुताबिक लोगों ने इस बार बकरीद की नमाज मस्जिदों में अता करने के बजाय घरों में अता की। नमाज अता करने के पश्चात लोगों ने जानवरों की कुर्बानी दी। जामा मस्जिद सेटर 8 के इमाम सहित अन्य मौलानाओं ने वीडियो जारी कर लोगों से कोविड गाइडलाइन के तहतत्योहार मनाने की अपील की थी।

बकरीद की पूर्व संध्या पर सेटर 8 स्थित जामा मस्जिद के पास खासी चहल-पहल रही। लोगों ने ईद के लिए बकरों एवं सेवईयों की खरीदारी की। नमाज अदा कर कुर्बानी देने के पश्चात लोगों ने एक दूसरे को बकरीद की बधाई दी। बकरीद को लेकर पुलिस ने भी खासी सतर्कता बरती।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it