Top
Begin typing your search...

गाजियाबाद: कोरोना पाजिटिव इलाकों में सैनिटाइज बंद कराना निगम का गलत निर्णय

गाजियाबाद: कोरोना पाजिटिव इलाकों में सैनिटाइज बंद कराना निगम का गलत निर्णय
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद। इंदिरा पुरम। ऐसा लगता है जैसे-जैसे कोरोना देश में व्यापक पैमाने पर अपने पैर पसारता जा रहा है, वैसे-वैसे प्रशासन और निगम अपनी जिम्मेदारी से मुंह मोड़ना जा रहा है। इंदिरा पुरम के अभय खण्ड तीन में तो ऐसा ही नजारा देखने को मिल रहा है। मिलन विहार फेज दो के जीडीए फ्लैट्स में बीते दिनों से एक ही परिवार के चार सदस्य कोरोना संक्रमित पाये गये जिनके यशोदा अस्पताल भर्ती किया गया।

दुख की बात यह है कि इलाका में सैनिटाइज कराने के लिए सोसायटी के लोगों को स्थानीय पार्षद मीना भंडारी से अनुरोध करना पड़ा और निजी स्तर पर भी सैनिटाइज कराने की व्यवस्था करनी पड़ी। अब भी निजी स्तर पर सोसायटी यह काम करवा रही है। हां व्यक्तिगत स्तर पर पार्षद भंडारी जरूर रुचि लेकर यह काम करवा रही हैं।

इस सम्बन्ध में पता चला है कि सैनिटाइज कराने के बाबत निगम ने अपने हाथ खींच लिए हैं। जबकि कोरोना के जहां भी मरीज पाये जाते हैं, वहां निगम को सैनिटाइज और फागिंग की रोजाना व्यवस्था करनी चाहिए। मिलन विहार में अभी भी फागिंग नहीं की जा रही है। निगम की इस उदासीनता से लोगों में रोष व्याप्त है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it