Begin typing your search...

गाजियाबाद : गर्मियों के साथ बढ़ी बिजली चोरी, एक माह में 800 मुकदमे दर्ज

बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ चार करोड़ 22 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इनमें से करीब 20 लाख रुपये जमा कराए गए हैं।

गाजियाबाद : गर्मियों के साथ बढ़ी बिजली चोरी, एक माह में 800 मुकदमे दर्ज
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

गाजियाबाद : गर्मी बढ़ने के साथ ही बिजली चोरी के मामले भी तेजी से बढ़ रहे हैं। बिजली चोरी से विभाग को हर महीने करीब 40 करोड़ की चपत लग रही है। बिजली चोरी को रोकने के लिए प्रवर्तन दल द्वारा रोजाना 25 से 30 मुकदमेे दर्ज कराए जा रहे हैं। अप्रैल महीने में करीब डेढ़ हजार जगहों पर छापा मारा गया था। इनमें 800 जगहों पर बिजली चोरी के मामले पकड़े गए। आरोपियों के कनेक्शन काट कर एंटी पावर थेफ्ट थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई गई है। बिजली चोरी के सबसे ज्यादा मामले लोनी, मोदीनगर, मुरादनगर इलाकों में पकड़े गए। इसके अलावा कैलाभट्ठा, बम्हैटा, सुदामापुरी, शहीदनगर, सिहानी गांव, नंदग्राम, विजयनगर में भी बिजली चोरी के मामले पकड़े गए। गाजियाबाद के मुरादनगर में बिजली चोरी की घटना का वीडियो भी वायरल हुआ था।

नहीं हट रही कटिया, मीटर पर भी लगा रहे कट

जिले में दो तरीकों से बिजली चोरी अधिक की जा रही है। पहला घर के पास लगे खंभे पर कटिया डालकर उसे मेन स्विच से जोड़कर चोरी की जाती है, दूसरा मीटर तक पहुंचने वाली लाइन में मीटर से पहले कट लगाकर बिजली चोरी करने के मामले पकड़े गए। खंभे के पास कटिया डालकर चोरी करने के मामले प्रवर्तन दल के निरीक्षण के दौरान पकड़ में आ जाते हैं लेकिन कट लगाकर बिजली चोरी करने के मामले किसी के शिकायत करने पर ही सामने आते हैं।

एसी और कूलर के लिए सबसे ज्यादा बिजली चोरी

बिजली चोरी की घटनाओं में करीब 70 फीसदी मामलों में बिजली चोरी एसी और कूलर चलाने में उपयोग किया जा रहा था। पांच से सात फीसदी लोग पानी भरने और निर्माण कार्य के लिए चोरी की बिजली को उपयोग में लाते हैं।

मुख्य अभियंता एसके पुरवार ने बताया कि बिजली चोरी करने वालों के खिलाफ चार करोड़ 22 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया है। इनमें से करीब 20 लाख रुपये जमा कराए गए हैं।

किस पर कितना जुर्माना

सबमर्सिबल- सात से दस हजार

एसी -एक से डेढ़ लाख

कूलर -20 से 25 हजार

फ्रिज- 40 से 45 हजार

हीटर-40 से 50 हजार

बल्ब -1500 से दो हजार

पिछले सप्ताह की गई कार्रवाई

07 मई - बम्हैटा में एक ही परिवार के लोगों के चार बिजली कनेक्शन

06 मई - दो किलोवाट के कनेक्शन पर घर का निर्माण

05 मई - लालकुआं में महेंद्री देवी के घर में बिजली चोरी कर कूलर, पंखा और सबमर्सिबल चलता मिला

04 मई : बुधवार को कैलाभट्ठा में दो, सुदामापुरी में तीन लोगों मामले पकड़े गए

03 मई - ट्रांस हिंडन और पुराने शहर में आठ स्थानों पर पकड़ी गई बिजली चोरी

बहरामपुर में 24 घंटे में 200 बार बिजली कटौती

लाइनपार क्षेत्र में कई स्थानों पर हो रही बिजली की ट्रिपिंग

गाजियाबाद। कटौती के बाद अब लो वोल्टेज और ट्रिपिंग की समस्या ने उपभोक्ताओं की नींद छीन ली है। लाइनपार क्षेत्र के अकबरपुर बहरामपुर में रविवार रात 10 बजे से लो वोल्टेज और हर पांच से 10 मिनट में ट्रिपिंग की समस्या बनी हुई है।

रविवार रात लोगों को जागकर बितानी पड़ी। कॉलोनी निवासी मनोज चौधरी का कहना है कि लो वोल्टेज और बिजली की आवाजाही से घरों में लगे बिजली के उपकरण नहीं चल रहे हैं। पानी की टंकियां खाली हो चुकी हैं। न मोटर चल रहा है और न ही पंखे ही चल पा रहे हैं। गर्मी में हालत खराब है। सबसे अधिक बच्चों और बुजुर्गों को परेशानी हो रही है। अवर अभियंता पंकज का कहना है कि लोड बढ़ने से लोकल फॉल्ट हो रहा है। फॉल्ट ठीक कराया जा रहा है।

इन कालोनियों में हुई कटौती

नेहरू नगर सेकेंड में लगा ट्रांसफार्मर का फेज उड़ने से आधे घंटे बिजली आपूर्ति प्रभावित रही। इसके अलावा गांधी नगर, राकेश मार्ग, संजय नगर, मालीवाड़ा, प्रताप विहार, विजयनगर में ट्रिपिंग और बिजली की आंख मिचौली हो रही है।

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it