Top
Begin typing your search...

गाजियाबाद: पत्रकार विक्रम जोशी की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत

विक्रम को स्थानीय यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां सोमवार से ही उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी।

गाजियाबाद: पत्रकार विक्रम जोशी की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गाजियाबाद के विजयनगर इलाके में सोमवार की शाम बदमाशों की गोली का शिकार पत्रकार विक्रम जोशी ने बुधवार सुबह यशोदा अस्पताल में दम तोड़ दिया। डॉक्टरों द्वारा लाख कोशिशों के बावजूद विक्रम को बचाया नहीं जा सका और उनकी मौत हो गई। पत्रकार जोशी पर सोमवार को बदमाशों ने जानलेवा हमला किया था। मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी रवि समेत मामले में 9 लोगों को गिरफ्तार किया है। प्रताप विहार चौकी इंचार्ज राघवेंद को कारवाई न करने पर सस्पेंड भी किया गया है।

पत्रकार विक्रम जोशी सोमवार को जब अपने दो बेटियों के साथ जा रहे थे, तभी उनकी बाइक को रोककर उनके साथ मारपीट कर सर में गोली मार दी थी। तभी आनन फानन में विक्रम को स्थानीय यशोदा अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां सोमवार से ही उनकी हालत गंभीर बनी हुई थी।

दरसअल, विक्रम ने कुछ दिनों पहले विजय विहार के प्रताप विहार चौकी में अपनी भांजी के खिलाफ छेड़छाड़ की शिकायत दी थी लेकिन पुलिस ने उनकी शिकायत को नजरअंदाज कर दिया। कार्रवाई न होने पर बदमाश हावी हो गए और विक्रम पर जानलेवा हमला कर दिया। वरदात के समय पत्रकार की दोनों बेटियां साथ थीं। पत्रकार पर हुए इस हमले की सीसीटीवी फुटेज भी वायरल हो रही है।

वहीं पत्रकार विक्रम जोशी के भांजे ने बताया कि सारा मामला हमारी बहन के ऊपर है। कमल-उद-दीन के बेटे सहित कुछ लड़के मेरी बहन को बहुत कमेंट करते थे। जिस दिन घटना घटी उस दिन मेरी बहन का जन्मदिन था। मेरे मामा उसे लेकर घर आ रहे थे,कमल-उद-दीन के बेटे ने मेरे मामा के सिर पर रॉड मारी और फिर गोली मारी। हम इंसाफ चाहते हैं।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it