Top
Begin typing your search...

पत्रकार विक्रम जोशी मर्डर: सीएम योगी का ऐलान- पत्नी को सरकारी नौकरी और 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद

जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने परिवार से मुलाकात की और उन्हें मांगें पूरी होने की बात कही. वहीं, सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने हत्‍याकांड पर नाराजगी जताई है.

पत्रकार विक्रम जोशी मर्डर: सीएम योगी का ऐलान- पत्नी को सरकारी नौकरी और 10 लाख रुपये की आर्थिक मदद
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने गाजियाबाद के पत्रकार विक्रम जोशी (Journalist Vikram Joshi) की हत्या के मामले में शोक संतप्त परिवार के साथ संवेदना जताते हुए अपराधियों पर कठोर कार्रवाई के निर्देश दिए हैं. साथ ही मुख्यमंत्री ने मृतक पत्रकार की पत्नी को सरकारी नौकरी, 10 लाख रुपए की मदद व बच्चों की निशुल्क पढ़ाई के निर्देश भी दिए हैं. बता दें कि विक्रम जोशी परिवार में एकलौते कमाने वाले थे. उनके तीन छोटे-छोटे बच्चे हैं. परिवार की तरफ से आर्थिक सहायता, पत्नी को नौकरी और बच्चों की पढ़ाई की मांग की गई थी.

जिलाधिकारी अजय शंकर पांडे ने परिवार से मुलाकात की और उन्हें मांगे पूरी होने की बात कही. उन्होंने बताया कि मुख्यमंत्री जी की पूरी संवेदना है. अपराधियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं. परिवार के लोगों से बातचीत हुई है. 10 लाख रुपये तत्काल देने की घोषणा की गई है. उनकी पत्नी को उनकी योग्यता के अनुसार नौकरी की व्यवस्था की जायेगी. उनके बच्चों को अच्छे स्कूल में मुफ्त शिक्षा दिलवाई जायेगी और परिवार को सुरक्षा दी जायेगी.

एसएसपी कलानिधि नैथानी ने मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर जाकर सख्त कार्यवाही करते हुए इस केस में नौ लोंगों को गिरफ्तार कर लिया है. लेकिन निचले स्तर की पुलिस ने उनको सही जानकारी या तो दी नहीं या फिर थाना प्रभारी और चौकी इंचार्ज घालमेल करते रहे. एसएसपी ने चौकी इंचार्ज को तत्काल प्रभाव से हटा दिया है जबकि अभी एसएचओ के खिलाफ कार्यवाही नहीं की है.

मृतक पत्रकार की बहन ने बताया कि बच्चों की पढ़ाई और भाभी को सरकारी नौकरी देने की बात कही गई है. फिलहाल दस लाख रुपये दे रहे हैं. उनके तीन बच्चे हैं, भाई है, मां हैं. सब साथ रहते हैं, तीनों बच्चों की की पढ़ाई है. बच्चों की उम्र आठ साल, पांच साल और दो साल है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने इस घटना पर नाराजगी जताई है. उन्होंने पूरे मामले में डीजीपी से रिपोर्ट तलब की है. साथ ही आईजी (मेरठ रेंज) प्रवीण कुमार को मौके पर पहुंचने का निर्देश दिया है. उधर, डीजीपी ने गाजियाबाद पुलिस को फटकार भी लगाई है.



20 जुलाई को बेटियों के सामने बदमाशों ने मारी थी गोली

गौरतलब है कि भांजी से छेड़छाड़ की शिकायत पुलिस से करने पर नाराज आरोपियों ने विक्रम जोशी की दो बेटियों के सामने उन्हें सिर में गोली मार दी थी. इसके बाद उन्हें यशोदा हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था, जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. मामले में पुलिस ने 9 लोगों को गिरफ्तार किया है. उधर, एसएसपी ने लापरवाही बरतने के आरोप में चौकी इंचार्ज राघवेंद्र को स्सस्पेंद कर दिया है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it