Begin typing your search...

ट्यूशन टीचर के 13 साल के बेटे ने किया 5 साल की बच्ची से रेप

आरोपी को भेजा गया चाइल्डकेयर होम

ट्यूशन टीचर के 13 साल के बेटे ने किया 5 साल की बच्ची से रेप
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

पुलिस ने बताया कि किशोरी खून से लथपथ घर पहुंची. जिसके बाद उसने अपनी मां को सारी बात बताई और उसकी मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. जिसके आधार पर एक मामला दर्ज किया गया है.

दिल्ली से सटे गाजियाबाद से एक हैरान करने वाले मामला सामने आया है. यहां विजयनगर इलाके में ट्यूशन टीचर के 13 साल के लड़के ने पांच साल की बच्ची के साथ बलात्कार किया है.

एसपी सिटी निपुण अग्रवाल ने बताया कि घटना मंगलवार शाम विजय नगर थानाक्षेत्र की एक कॉलोनी में हुई है. उन्होंने बताया कि बच्ची अपने भाई के साथ ट्यूशन पढ़ने गई थी. जिस समय वो ट्यूशन के लिए टीचर के घर पहुंचे उस समय वहां शिक्षिका मौजूद नहीं थी लेकिन उसका बेटा वहां मौजूद था.

उन्होंने बताया कि इसी बीच पीड़िता का भाई शौच के लिए घर गया और उसकी मां ने उसे बाजार भेज दिया. तभी उसी दौरान घर में बच्ची और शिक्षिका का बेटा मौजूद था. जिसके बाद लड़के ने बच्ची के साथ कथित तौर पर बलात्कार किया.

बच्ची ने रोते हुए मां को बताया सब

पुलिस ने बताया कि किशोरी खून से लथपथ घर पहुंची. जिसके बाद उसने अपनी मां को सारी बात बताई और उसकी मां ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई. जिसके आधार पर एक मामला दर्ज किया गया. पीड़ित पक्ष का आरोप है कि आरोपी के परिजनों ने उनसे अभद्रता कर मामला रफा-दफा करने का दबाव डाला हैं. हंगामे के बाद पुलिस मौके पर पहुंची तो कार्रवाई शुरू हुई. पुलिस ने बलात्कार के आरोपी किशोर को अदालत में पेश किया, जहां से उसे नोएडा के एक 'चाइल्डकेयर होम' भेज दिया गया है.

समझौता करने के लिए डाला दबाव

पीड़ित बच्ची के पिता का कहना है कि वो ई-रिक्शा चलाकर परिवार का पालन-पोषण करते हैं. वो जिनके मकान में रहते हैं उन्ही के पास उनकी लड़की ट्यूशन पढ़ने जाती थी. उन्होंने आरोप लगाया है कि अस्पताल में आरोपी पक्ष पहले से मौजूद मिला. उसने वहां इलाज का खर्च देने की बात कहते हुए मामले को रफा-दफा करने का दबाव डाला. उन्होंने फैसले से इनकार कर दिया तो आरोपी पक्ष ने उनका मोबाइल छीन लिया और अभद्रता शुरू कर दी.

हंगामे के बीच पीड़ित पक्ष ने पुलिस को सूचना दी. जिसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर पीड़ित बच्ची का मेडिकल परीक्षण कराते हुए कार्रवाई शुरू कर दी. पुलिस ने आरोपी बच्चे को बालसुधार गृह भेज दिया है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it