Begin typing your search...

जब स्कूल बंद फिर फीस क्यों ? निजी स्कूलों पर लगाम लगाए सरकार: पण्डित जगदीश शर्मा

जब स्कूल बंद फिर फीस क्यों ? निजी स्कूलों पर लगाम लगाए सरकार: पण्डित जगदीश शर्मा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

देश में कोरोना संकट के बीच पिछले 15 महीने से स्कूल और कॉलेज बंद हैं। लेकिन इसके बीच सबसे बड़ा सवाल यह है कि लॉकडाउन के दौरान बंद रहे स्कूलों और कॉलेजों की फीस अभी भी अभिभावकों से ली जा रही है। इस मुद्दे पर सवाल उठाते राहुल प्रियंका गांधी सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगदीश शर्मा ने केंद्र सरकार और राज्य सरकार से सवाल पूछा है कि आखिर क्यों इस महामारी के दौर में अभिभावकों को स्कूल फीस में रियायत नहीं दी जा रही है ?

जगदीश शर्मा का सरकार से कहना है कि कोरोना के इस बुरे दौर में कई लोग घर से बेघर हो गए, कई लोगों ने अपने परिवार खो दिए है। ऐसे मे जब लोगों को खाने तक के पैसे नही हैं तो वह अपने बच्चों की फीस कैसे भरेंगे। दिल्ली सरकार ने जिस तरह दिल्ली में रह रहे किरायेदारों का किराया कम कराया है, उसी तरह उन्हें निजी स्कूलों के की फीस माफ किए जाए, ताकि बच्चों की पढ़ाई बाधित ना हो सके। क्योंकि बच्चे ही देश का भविष्य हैं, और जब उनके परिजन निजी स्कूलों की मोटी फीस नहीं दे पाएंगे तब उन्हें अपने बच्चों को स्कूल से मजबूरीवश निकालना पड़ेगा। जगदीश शर्मा ने कहा कि बच्चों के भविष्य को ध्यान में रखते हुए तुरंत संबधित सरकारों को स्कूलों की फीस माफ करने का निर्णय लेना चाहिंए ।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it