Top
Begin typing your search...

युवा प्रयास से बन गया दक्षिणांचल मे कोविड अस्पताल

सुभम की मुहिम मे सब आये साथ मिला 100 बेड लेवल थ्री अस्पताल

युवा प्रयास से बन गया दक्षिणांचल मे कोविड अस्पताल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

गोरखपुर | कहा जाता है कि नवजात को माँ से दूध पाने के लिये रूदन करना ही पड़ता है. यह ईश्वर ने नवजात को नैसर्गिक गुण प्रदान किया है | ममता से भरी माँ के लिये यह बालहठ सर्वविदित है | वर्तमान हालात देश का कुछ ऐसा हो गया है कि चहुंओर चिकित्सा सेवा की जरुरत आन पड़ी है| सरकार को सभी ओर देखना है उपाय करना है |

अब आपदा के बारे में तो किसी को कुछ पता नहीं होता कि कब आ जाय | हां सम्भलने के लिये कुछएक सूचक जरूर प्राप्त हो जाता है | इसी अवधि मे आपदा से निपटने के लिये सारी तैयारियां करनी होतीं हैं | करोड़ों की आबादी में अचानक हुये कोरोना के हमले से पूरा देश हिल गया | अब दो ही रास्ते होते हैं या तो जो हो रहा है होने दो दूसरा जब तक सम्भव हो प्रयास करते रहो ! अपनी बात पहुचाओ जिम्मेदारों तक| प्रधानमंत्री- मुख्यमंत्री ने युवाओं का आहवान किया कि इस संकट की घड़ी में वो आगे आयें और हर सम्भव मदद समाज की करें | समाज में रहते हुये आपके कुछ नागरिक धर्म होते हैं | यदिआप उन्हें जानते समझते हैं तो ही स्वंय को जागरूक समझिये ! फिलहाल दक्षिणांचल मांगे कोबिड अस्पताल अभियान की शुरूआत बड़हलगंज से देश के युवा नागरिक एडवोकेट प्रणव द्विवेदी सुभम नें शुरू की |

आपको बता दें गोला बड़हलगंज क्षेत्र में ऐसा एक भी अस्पताल नही है जो गमॆभीर रोगियों के लिये सेवा दे सके ! उस पर भी कोबिड के प्रोटोकॉल और ओपीडी बंद ! सैकड़ों मौत देखकर यहां के युवा दहशत में आने के बजाय संघर्ष और सेवा मे जुट गये और बन गई टीम मदद ! क्षेत्र वासियो ने इस आन्दोलन को बल दिया | सोशल मीडिया भर गया दक्षिणांचल मांगे कोविड अस्पताल के पोस्टर से ! स्थानीय विधायक विनयशंकर त्रिपाठी ने भी इस अभियान में हिस्सा लिया उधर पूर्व विधायक और होम्योपैथी चिकित्सालय की नीव रखने वाले राजेश त्रिपाठी भी लगे | राजकीय चिकित्सा से महरूम जनपद का यह दक्षिणी छोर आज अपने अभियान में सफल हुआ | बड़हलगंज के होम्योपैथी कालेज को सरकार ने 100 बेेड कोबिड अस्पताल बनाने का फैसला किया |

यह घटना बताती है कि सोशल मीडिया का उपयोग करके बड़े जनोपयोगी कार्य व जनसेवा सहायता की जा सकती है | जन सरोकार के नेक कार्य हेतु सुभम व टीम मदद के साथियों द्वारा किये गये प्रयास को स्पष्ट आवाज की ओर से साधुवाद |

धनञ्जय शुक्ल

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it