Begin typing your search...

दलित नाबालिक के साथ दुष्कर्म पुलिस ने नही दर्ज किया मुकदमा, तो पिता ने उठाया ऐसा कदम

दलित नाबालिक के साथ दुष्कर्म पुलिस ने नही दर्ज किया मुकदमा, तो पिता ने उठाया ऐसा कदम
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश के जालौन में नाबालिक के साथ बंदूक की नोक पर दुष्कर्म किया गया। लेकिन जब पीड़िता के पिता ने इसकी शिकायत थाने में की तो पुलिस उल्टा ही पीड़िता के पिता पर ही समझौता करने का दबाव बनाने लगी, इसी के साथ पुलिस के द्वारा इस घटना में कोई भी एक्शन नहीं लिया गया। आरोपियों के खिलाफ कोई भी एक्शन नहीं लिए जाने के बाद पीड़िता ने जालौन पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखकर पूरे मामले की जानकारी दी

और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की। बंदूक की नोक पर किया किशोरी से दुष्कर्म यह घटना जालौन के एक गांव से है। जहां पर बंदूक की नोक पर नाबालिक के साथ दुष्कर्म जैसी घटना को अंजाम दिया गया है। पीड़िता के पिता का कहना है कि उनकी बेटी दुकान में समान लेने गई थी। इस दौरान गांव के मलखान और जीतू पहले से ही दुकान पर मौजूद थे।

उन्होंने बेटी को आवाज देखर बुलाया। जब वह उनके पास पहुंची तो उन्होंने बंदूक दिखाकर उसे बाड़े में ले गए, जहां पर उन्होंने लड़की के साथ दुष्कर्म किया। बेटी के रेप के बाद आरोपियों ने उसे जान से मारने की धमकी दी। पीड़िता के पिता का कहना है कि इस घटना को कुछ लोगों ने देखा औऱ इसकी सूचना मुझे आ कर दी। वहीं इस घटना के बाद से पीड़िता व उसका परिवार बुरी तरह से डरा हुआ है। पुलिस की तरफ से भी कोई मद्द नहीं मिली है। पुलिस अधिक्षक को पीड़िता ने लिखा पत्र वहीं पुलिस की तरफ से कोई भी कार्रवाई नहीं होते देख कर पीड़िता ने जालौन के पुलिस अधीक्षक को पत्र लिखा।

जिसके बाद पुलिस अधीक्षक असीम चौधरी ने बताया कि एक नाबालिक पीड़िता ने शिकायती पत्र दिया है। जिसकी जांच की जा रही है और पीड़िता का बयान भी दर्ज कराया जा रहा है। इसके बाद कानूनी कार्रवाई की जाएगी। मामले में वरिष्ठ अधिकारियों के आश्वासन के बाद पीड़ित परिवार में न्याय की आस जगी है।

Desk Editor
Next Story
Share it