Top
Begin typing your search...

विकास दुबे के बाद अब मददगारों की धरपकड़, आरोपियों को शरण देने वाले दो लोग गिरफ्तार

विकास दुबे का खात्मा होने के बाद अब यूपी एसटीएफ उसके साथियों व मददगारों की धरपकड़ कर रही है.

विकास दुबे के बाद अब मददगारों की धरपकड़, आरोपियों को शरण देने वाले दो लोग गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश में विकास दुबे एनकाउंटर के बाद पुलिस पूरे एक्शन में है. विकास दुबे का खात्मा होने के बाद अब यूपी एसटीएफ उसके साथियों व मददगारों की धरपकड़ कर रही है. पुलिस लगातार विकास दुबे और उसके गैंग को शरण देने वालों पर शिकंजा कस रही है. इसी कड़ी में ग्वालियर के रहने वाले दो लोगों (ओम प्रकाश पांडे और अनिल पांडे) को गिरफ्तार किया गया है. इन दोनों पर कानपुर कांड में शामिल आरोपी शिवम दुबे और शशिकांत पांडे को शरण देने का आरोप है.

कानपुर कांड में आरोपी शशिकांत पांडे (सोनू) और शिवम दुबे को ग्वालियर निवासी ओम प्रकाश पांडे और अनिल पांडे ने अपने घर में छुपाया था. एसटीएफ ने ओम प्रकाश और अनिल पांडे को गिरफ्तार किया.

आरोप है कि विकास दुबे के 2 साथियों को इन्होंने अपने यहां शरण दी थी. पुलिस का कहना है कि इन दोनेां के खिलाफ भी कानपुर में भी केस दर्ज है.

गौरतलब है कि शुक्रवार को ही तड़के सुबह उत्तर प्रदेश के मोस्ट वॉन्टेड अपराधी विकास दुबे को मार गिराया गया था. कानपुर के बिकरू गांव में 2 जुलाई को आठ पुलिसकर्मियों की हत्या मामले में यह बड़ी पुलिसिया कार्रवाई थी. विकास दुबे पर 5 लाख का इनाम था. पुलिस की माने तो उज्जैन से कानपुर लाते समय विकास दुबे ने भागने की कोशिश की. इस दौरान एनकाउंटर हुआ और वह मारा गया.


Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it