Begin typing your search...

बुजुर्ग मां-बाप को बहू-बेटे ने निकाला घर से बाहर, कानपुर पुलिस कमिश्नर ने कुछ यूं सिखाया सबक

बुजुर्ग माता-पिता की बेकदरी करने वालों के लिए यह सबक है।

बुजुर्ग मां-बाप को बहू-बेटे ने निकाला घर से बाहर, कानपुर पुलिस कमिश्नर ने कुछ यूं सिखाया सबक
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कानपुर पुलिस कमिश्नर असीम अरुण ने बेहद ही सराहनीय काम किया है जिसकी हर कोई प्रशंसा कर रहा है. चकेरी में बुजुर्ग दंपती की बेकदरी करने वाले बेटे-बहू को पुलिस कमिश्नर ने शनिवार को सबक सिखाया। आरोप है कि बेटे और बहू ने उन्हेंं विवाद के बाद मारपीट कर घर से निकाल दिया था। थाने और चौकी में चक्कर लगाकर परेशान हुए दंपती ने पुलिस कमिश्नर से शिकायत की तो वह खुद बुजुर्ग दंपती को लेकर उनके घर पहुंचे। जहां उन्होंने बुजुर्ग दंपती को उनके घर पहुंचाया और मारपीट करने के आरोप के चलते उन्होंने बेटे और बहू को गिरफ्तार करा कर शांतिभंग की कार्रवाई कराई। इतना ही नहीं उन्होंने बुजुर्ग दंपती की सुरक्षा के लिए उनके घर पर फोर्स भी तैनात की है।

जेके कालोनी निवासी बुजुर्ग अनिल कुमार शर्मा के परिवार में उनकी पत्नी, बेटा अभिषेक और बहू है। अनिल कुमार का दो माह पूर्व किसी बात को लेकर बेटे और बहू से विवाद हो गया था। जिसके बाद बेटे और बहू ने उनके साथ मारपीट की थी। इस पर बुजुर्ग ने चकेरी थाने में बेटे और बहू के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया था। इसके बाद भी बेटे और बहू की हरकतें बंद नहीं हुई। किसी न किसी बहाने से बुजुर्ग दंपती को परेशान कर रहे थे। उत्पीडऩ से परेशान बुजुर्ग दंपती ने इसकी शिकायत थाने और डीसीपी पूर्वी की जनसुनवाई में भी की, लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। दो दिन पहले बेटे और बहू ने दोबारा मारपीट करते हुए बुजुर्ग माता पिता को घर से निकाल दिया था। इस पर पीडि़त दंपती ने पुलिस कमिश्नर से शिकायत की।

मामला संज्ञान में आने पर पहले उन्होंने अब तक की कार्रवाई के बारे में जानकारी ली और बुजुर्ग दंपती को कैंप दफ्तर बुलाया। जहां से वह बुजुर्ग दंपती को साथ लेकर फोर्स संग घर पहुंचे। जहां उन्होंने दंपती को उनके घर पहुंचाया। वहीं बुजुर्ग दंपती से मारपीट करने के आरोप में उन्होंने घर में मौजूद उनके बेटे अभिषेक और बहू को हिरासत में थाने भेजा। जहां चकेरी थाने से बेटे पर शांतिभंग की कार्रवाई हुई। वहीं बहू पर महिला थाने से शांतिभंग की कार्रवाई की गई।

अपने सामने ही खुलवाए ताले : बुजुर्ग दंपती को पीटकर घर से निकालने के बाद बेटे और बहू ने उनका सामान समेट कर दोनों कमरों में अपने ताले डाल दिए थे। पुलिस कमिश्नर जब घर के अंदर बुजुर्ग दंपती संग पहुंचे तो कमरे में ताले बंद देखें। पूछने पर बुजुर्ग दंपती ने उन्हीं के कमरे होने की जानकारी दी। इस पर उन्होंने बहू से दोनों कमरों के ताले खुलवाये। वहीं उन्होंने बुजुर्ग दंपती को घर में रहने की बात कहते हुए अपना नंबर दिया और दोबारा परेशानी होने पर तत्काल सूचना देने की बात कही।

बुजुर्ग माता-पिता की बेकदरी करने वालों के लिए यह सबक है। आगे अगर कहीं भी इस तरह की शिकायत मिलती है तो आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। -असीम अरुण, पुलिस कमिश्नर


Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it