Begin typing your search...

कानपुर घायलों को देख भावुक हुए सीएम योगी

कानपुर घायलों को देख भावुक हुए सीएम योगी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कानपुर: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को आपात दौरे पर कानपुर के हैलेट हॉस्पिटल पहुंचे। उन्होंने संवेदना दिखाते हुए कानपुर सड़क हादसे में घायल लोगों का हाल जानने के लिए पहले से निश्चित अपने बलरामपुर के दौरे को स्थगित कर दिया। इस दौरान सीएम ने हादसे को लेकर दु:ख व्यक्त करते हुए स्वास्थ्य विभाग से जुड़े अधिकारियों और चिकित्सकों को घायलों के समुचित इलाज के निर्देश दिए।


घायलों का हाल जानने के बाद सीएम योगी मीडिया से मुखातिब हुए। उन्होंने कहा कि जिन परिवारों ने अपने परिजनों को खोया है उनके साथ संवेदना जताने के लिए ही मैं और विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना यहां पहुंचे हैं। उन्होंने कहा कि सरकार ऐसी दुर्घटनाओं को रोकने के लिए समय-समय पर जागरुकता का कार्यक्रम चला रही है। सीएम ने कहा कि कल की दुखद घटना के लिए राष्ट्रपति प्रधानमंत्री, गृहमंत्री समेत सभी ने अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं।


सीएम योगी ने कहा कि इस दुर्घटना में मृतकों के परिजनों को 2 लाख रुपये और घायलों को पचास हजार रुपये की सहायता राशि दी जा रही है। मृतकों के परिजनों को अंतिम संस्कार के बाद यह राशि प्रदान की जाएगी। उन्होंने लोगों से अपील करते हुए कहा कि ट्रैक्टर ट्रॉली और ट्रक का इस्तेमाल सामान ढुलाई एवं कृषि कार्य के लिए करें, सवारी के लिए इनका इस्तेमाल न किया जाए। इसके लिए हम जागरूकता और जनसहभागिता के साथ कार्यक्रम आगे बढ़ाएंगे। सीएम योगी ने कहा कि सड़क दुघर्टना रोकने के लिए और जागरूकता अभियान चलाने के लिए मैंने गृह विभाग, परिवहन विभाग समेत सभी विभागों को निर्देश दिए हैं।


घायलों का हाल जानने के बाद सीएम योगी मृतकों के गांव कोरथा पहुंचे जहां उन्होंने हादसे में दिवंगत हुए सभी लोगों के परिजनों से मुलाकात की। सीएम योगी ने परिजनों को ढांढस बंधाते हुए सरकार की तरफ से हर संभव सहायता की बात कही। इस दौरान उनके साथ विधानसभा अध्यक्ष सतीश महाना समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

बता दें कि एक अक्टूबर को कानपुर के कोरथा गांव निवासी श्रद्धालु ट्रैक्टर-ट्राली से फतेहपुर में चंद्रिका देवी मंदिर गए थे। वाहन में करीब 50 लोग सवार थे। वापस लौटते समय साढ़ और गंभीरपुर गांव के बीच सड़क किनारे तालाब में ट्राली पलटने से 26 लोगों की मौत हो गई और कई लोग घायल हो गए।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it