Begin typing your search...

पत्नी लगा रही थी फांसी और पति बनाता रहा वीडियो, पत्नी की मौत के बाद उड़े होश वीडियो पर लोग दे रहे है गालियां

पत्नी लगा रही थी फांसी और पति बनाता रहा वीडियो, पत्नी की मौत के बाद उड़े होश वीडियो पर लोग दे रहे है गालियां
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

-कानपुर: उसने अग्नि को साक्षी मान कर सात जन्मो तक साथ देने का वायदा किया था। मगर कमज़र्फ इतना निकला कि पत्नी फांसी लगा रही थी तो वह उसको रोकने और समझाने के बजाये खड़ा होकर वीडियो बना रहा था। परनी ने फंसी लगा लिया और उसका देहांत हो गया तो शव को नीचे उतार कर अपने ससुर को फोन करता है और विवाहिता के मरने की खबर देता है।

ससुराली जन जब इस समाचार को सुन कर बदहवास हालत में अपनी बेटी के घर पहुचते थे तो देखते है कि वह उसको अस्पताल तक न लेकर गया और बैठ कर उसको सीने पर पम्प कर रहा है। मृतका के परिजन उसको लेकर अस्पताल जाते है, जहा चिकित्सको ने उसे मृत घोषित कर दिया। जिसके बाद मृतका के परिजनों ने हत्या का आरोप लगाकर जमकर हंगामा किया। सुसाइड की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है।

कानपुर के इस कलयुगी पति के कारनामे की चर्चा अब पूरे शहर में है। उसके द्वारा बनाया गया वीडियो अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। वीडियो में साफ़ दिखाई दे रहा है कि बेड पर कुर्सी रखकर पत्नी पंखे से लटक कर फांसी लगाने की कोशिश कर रही। यह वीडियो और किसी ने नही बल्कि मृतका के पति ने खुद बनाया है। वह उसको बचाने की जगह वीडियो बनाता रहा। पहले पत्नी प्रयास करती रही, फिर दूसरी बार में वह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मामला कानपुर के गुलमोहर नगर का है।


बताया गया कि कानपुर के किदवई नगर के रहने वाले राज किशोर गुप्ता ने अपनी बेटी शोभिता गुप्ता की शादी 4 साल पहले गुलमोहर इलाके में रहने वाले संजीव गुप्ता के साथ की थी। मंगलवार की दोपहर शोभिता ने अपने घर में फांसी लगा ली। जिसके बाद संजीव ने इसकी सूचना पत्नी के घरवालों को दी। शोभिता के पिता राज किशोर की माने तो वह अपने घर वालों के साथ घबराए हुए बेटी के ससुराल पहुंचे। वहां उन्होंने देखा कि बेटी की बॉडी बिस्तर पर पड़ी थी और उसका पति संजीव उसके चेस्ट में पंपिंग कर रहा था। उसको अस्पताल तक लेकर नही गया और खुद ही चिकित्सक बना बैठा है।

मृतका के पिता ने जब पति संजीव गुप्ता से पूछा उससे कि उनकी बेटी ने फांसी कैसे और क्यों लगाई। तब उसने अपने मोबाइल का वीडियो दिखाते हुए कह दिया कि यह पहले भी फांसी लगाने की कोशिश कर रही थी, तब मैंने उसको बचा लिया था। इसका वीडियो भी उसने पत्नी के पिता को दिया। वीडियो देख कर सब घर वाले हैरत में रह गए कि जब उनकी बेटी फांसी लगा रही थी तब उसका दामाद संजीव उसको बचाने की जगह वीडियो बना रहा था। संजीव, उसे बोल रहा था तुम ऐसा ही करोगी तुम्हारी सोच ऐसी ही है। मृतका के परिजनों ने घटना की सूचना हनुमन्त बिहार पुलिस को दी। जहां पुलिस ने बॉडी का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज मामले की जांच शुरू कर दी है।

मो0 कुमेल की रिपोर्ट

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it