Begin typing your search...

सस्ते दामों में कार व मोटर साइकिल देने के ऑफर देकर आम जनता के साथ धोखाधडी कर 10 करोड रूपये से अधिक हडपने वाले गिरोह का पर्दाफास

कासगंज पुलिस को मिली बडी सफलता, सस्ते दामों में कार व मो0सा0 देने के लुभावने ऑफर देकर आम जनता के साथ धोखाधडी कर 10 करोड रूपये से अधिक हडपने वाले गिरोह का थाना सोरों पुलिस किया भंडाफोड

Big disclosure of Superintendent of Police Kasganj BBGTS Murthy
X

Big disclosure of Superintendent of Police Kasganj BBGTS Murthy

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कासगंज: जून के महीने में वादी सुखबीर निवासी ग्राम प्रहलादपुर थाना सोरो द्वारा थाना सोरों पर सूचना दी कि माई सन लाइफ कम्पनी के मालिक प्रेमपाल उर्फ धनीराम पुत्र मोहर सिंह नि0 नगला बैनी थाना व जनपद कासगंज जोकि यूट्यूब व व्हाट्सअप पर मोटरसाइकिल व कार सस्ते दामों में दिलाने की स्कीम का प्रचार प्रसार कर मीटिंग करते है तथा लोगों को रूपये जमा करने के लिए प्रेरित करते है । रूपये जमा कराकर रशीद भी दी जाती है। दिनांक 12.12.2021 को कम्पनी के मालिक द्वारा वादी को लालच देकर प्रथम बार में 284000/- रूपये लिये गये व एक हफ्ते बाद दूसरी बार में 435600/- रूपये लिये गये इस प्रकार कुल धनराशि 719600/- रूपये ली गयी तथा कम्पनी के मालिक ने स्कीम में मूल कीमत को 45 दिन के हिसाब से दोगुना धनराशि व 04 पहिया गाड़ी देने का वायदा किया था । वादी को आज तक कोई भी सामान नहीं दिया गया और ना ही रूपये वापस किये गये तथा वादी को कम्पनी के मालिक प्रेमपाल द्वारा कहा गया कि जो करना है कर ले, ना तो स्कीम दी जायेगी और ना रूपये वापस किये जायेगे । इस सम्बन्ध में वादी की तहरीर के आधार पर थाना सोरों पर दिनांक 29.06.2022 को मु0अ0सं0 256/2022 धारा 420/406 भादवि0 पंजीकृत कर विवेचना प्रारम्भ की गयी तथा विवेचना के दौरान साक्ष्य संकलन के आधार पर धारा 419,467,468,471,120B भादवि0 की बढोत्तरी की गयी ।

उक्त घटना को गम्भीरता से लेकर पुलिस अधीक्षक बी0बी0जी0टी0एस0 मूर्ति द्वारा अपराधियों के खिलाफ चल रही कार्यवाही को लेकर वादी की सूचना के आधार पर माई सनलाइफ हेल्थ केयर कम्पनी प्राइवेट लिमिटेड अहमदाबाद (गुजरात) के मालिक अभियुक्त 1. प्रेमपाल सिंह पुत्र मोहर सिंह निवासी नगला बैनी थाना व जनपद कासगंज 2. पूरन सिंह पुत्र शिवलाल सिंह निवासी टीकमपुरा थाना व जनपद कासगंज 3. ध्यानप्रताप सिंह उर्फ डी0पी0 सिंह पुत्र अचल सिह निवासी काजीखेडा थाना मारहरा जिला एटा को मेला ग्राउण्ड कस्बा सोरों से समय करीब 08.15 बजे रात्रि गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है । जोकि काफी समय से गिरफ्तारी से बचने के लिए अपना ठिकाना बदलता रहता था । गिरफ्तार अभियुक्तगण के कब्जे से 01 लैपटॉप 01 स्वाइप मशीन,03 मोबाइल फोन, कम्पनी की दो फर्जी मौहरे, डायरी व कम्पनी से सम्बन्धित फाइले व अन्य प्रपत्र बरामद किये गये हैं ।

अभियुक्तगण से कढाई से पूछताछ की गई तो बताया कि साहब हम तीनों ने मिलकर mysunlifehealthcare के नाम से कम्पनी खोली है, कम्पनी पूरन सिह व धनीराम के नाम से है जिसका मुख्यालय अहमदाबाद गुजरात में है । जिसमें हम जनता के लोगों को लुभावने ऑफर देकर अपनी टीम में जोडते हैं । जिसमें एक योजना 36300 रू0 जमा कराने पर 45 दिन के अन्दर एक नई मोटर साइकिल व दूसरी योजना 1,42,600 रू0 जमा कराने पर 45 दिन के अन्दर एक चार पहिया कार देने का लालच देकर पैसे नकद व अपने खातो व कम्पनी के खातो में लेते है तथा उन लोगों से अन्य लोगों को जोडने व हमारी कम्पनी के प्रोडक्टो की बिक्री की शर्त पर मोटर साइकिल व कार दी गई थी हमारी कम्पनी से काफी लोग जुडे हुए है तथा काफी लोगों को हमने मोटर साइकिल व कार दी है कुछ लोगों को हम कम्पनी के प्रोडक्ट बिक्री न होने के कारण इस योजना का लाभ नही दे पाये है जिस कारण हम से जुडे हुए लोग अपना पैसा माँग रहे है हमने अपनी कम्पनी का एक कार्यालय कासगंज में भी खोला था किन्तु यहाँ पर लोगों ने समय पर मो0सा0 व कार न मिलने पर अपना पैसा माँगने को लेकर काफी परेशान किया तो हमने कार्यालय बन्द कर दिया और अपना सामान ले गये कुछ लोगों ने हमारे खिलाफ थाने पर रिपोर्ट करा दी हम लोग अपनी कम्पनी से अन्य लोगों को जोडने के लिए सोरों क्षेत्र में आये थे कि आपने हमें पकड लिया, अभियुक्त प्रेमपाल से कम्पनी/बैंक खाते आदि धनीराम के नाम से खोले जाने का कारण पूछा गया तो बताया कि साहब मैने अपने सभी कागजात/पहचानपत्र अपने बडे भाई धनीराम के नाम से बनवाये है ताकि यदि मै कभी पकडा जाऊँ तो मेरे भाई धनीराम का नाम आये जो कि दिमागी रूप से कमजोर है जिसका हमें लाभ मिल सके ।

अभियुक्तगण द्वारा करीब 800 मोटर साइकिल तथा 96 कारों को लोगों के स्कीम के तहत देकर आकर्षित किया गया है । इनके द्वारा करीब 10 करोड रूपये का गबन किया गया है ।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it