Top
Begin typing your search...

कासगंज पुलिस की बड़ी कामयाबी, पुलिसकर्मी की हुई हत्या का मुख्य आरोपी 1 लाख का इनामियां मोती पुलिस मुठभेड़ में ढेर

आपको बतादें बीते दिनों थाना सिढ़पुरा के नगला धीमर में मोती ने एक पुलिसकर्मी की हत्या कर दी थी व एक दारोगा अभी अस्पताल में भर्ती है

कासगंज पुलिस की बड़ी कामयाबी, पुलिसकर्मी की हुई हत्या का मुख्य आरोपी 1 लाख का इनामियां मोती पुलिस मुठभेड़ में ढेर
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

कासगंज : यूपी के जनपद कासगंज में पुलिसकर्मी की हुई सनसनीखेज हत्या का मुख्य अभियुक्त एक लाख का इनामियां मोती पुलिस मुठभेड में ढेर कर दिया है. कब्जे से लूटी गई सरकारी पिस्टल, खोखा व जिंदा कारतूस .9mm, मय 01 अवैध तमन्चा 315 बोर मय खोखा व जिन्दा कारतूस बरामद हुआ है.

आपको बतादें की 9.2.2021 को जनपद के थाना सिढ़पुरा पर तैनात उनि अशोक कुमार व आरक्षी 72 देवेन्द्र सिंह वांछित अभियुक्त की तलाश हेतु क्षेत्र में गये हुए थे, तभी मुखबिर द्वारा सूचना दी गई कि ग्राम नगला धीमर कटरी में कुछ लोग अवैध भट्टी चलाकर कच्ची शराब का बना रहे हैं। सूचना के आधार पर उक्त दोनों पुलिस कर्मियों द्वारा दबिश दी गई तो बदमाश मोती पुत्र हुब्बलाल व उसका भाई एलकार पुत्र हुब्बलाल व उसके साथियों द्वारा पुलिस कर्मियों को देखते ही चारों तरफ से घेरा बनाकर जान से मारने की नीयत से अवैध तमन्चों से फायर करते हुए लाठी, डन्डों एवं नुकीले भालों से जान से मारने की नीयत से हमला कर दिया तथा दोनों पुलिस कर्मियों पर कई प्रहार किए गए जिससे उनि श्री अशोक कुमार गम्भीर रूप से घायल हो गए एवं आरक्षी देवेन्द्र कुमार की मृत्यु हो गई। बदमाश उपनिरीक्षक अशोक कुमार की सरकारी पिस्टल एवं कारतूस भी लूट कर ले गए। घायल उनि अशोक कुमार को उपचार हेतु जिला अस्पताल में भर्ती कराया जिन्हें बाद में इलाज हेतु अलीगढ़ रैफर किया गया।

उक्त सनसनीखेज घटना को पुलिस अधीक्षक कासगंज द्वारा अत्यन्त गंभीरता से लेकर तत्काल थाना सिढपुरा पर मु0अ0सं0 28/21 धारा 147, 148, 149, 353, 333, 307, 364, 396, 397, 302 भादवि बनाम मोती व ऐलकार पुत्रगण हुब्बलाल निवासी नगला धीमर थाना सिढ़पुरा एवं 5-6 अज्ञात बदमाशों के विरुद्ध पंजीकृत करते हुए बदमाशों की गिरफ्तारी हेतु अपर पुलिस अधीक्षक कासगंज के पर्यवेक्षण एवं क्षेत्राधिकारी पटियाली के नेतृत्व में सर्विलांस/एस0ओ0जी0, थाना सिढपुरा एवं थाना गंजडुंडवारा, सिकंदरपुर वैश्य सहित पुलिस कर्मियों की 06 टीमें गठित की गई थी। अपर पुलिस महानिदेशक आगरा जोन आगरा द्वारा अभियुक्त मोती की गिरफ्तारी 01 लाख रुपए का इनाम घोषित किया गया था।

गठित पुलिस टीमों द्वारा अभियुक्तों की तलाश में निरंतर काम्बिंग एवं भिन्न भिन्न स्थानों पर तलाश की जा रही थी। इसी दौरान दिनांक 20/21-02-2021 की रात्रि पुलिस टीम को मुखबिर के माध्यम से सूचना प्राप्त हुई कि फरार बदमाश मोती व उसके साथी करतला रोड काली नदी के पास जंगलों में छिपे हुए हैं। पुलिस टीम बदमाशों की तलाश/काम्बिंग करते हुए आज प्रातः समय करीब 02:30 बजे से 03:00 बजे के मध्य बदमाशों के छिपे स्थानों पर पहुंचीं तो बदमाशों द्वारा अवैध तमन्चों से पुलिस टीम के ऊपर जान से मारने की नीयत से फायरिंग शुरू कर दी गई।

पुलिस टीम ने फायरिंग से अपने आप को बचाते हुए अन्य कोई उपाय न देख बदमाशों पर जवाबी कार्यवाही/फायरिंग की गई। जिसमें एक बदमाश मोती पुत्र हुब्बलाल निवासी नगला धीमर थाना सिढ़पुरा जनपद कासगंज को गोली लगी जिससे वह घायल हो गया एवं एक बदमाश अन्धेरे का फायदा उठाकर फरार होने में सफल रहा। घायल बदमाश उपरोक्त को तत्काल पुलिस वाहन में इलाज हेतु प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र सिढ़पुरा ले जाया गया जहां से जिला अस्पताल कासगंज रैफर किया गया जहां पर इलाज के दौरान चिकित्सकों द्वारा उसे मृत घोषित किया गया। मृतक के शव के पास से उपनिरीक्षक से लूटी गई सरकारी पिस्टल व खोखा. ज कारतूस .9MM पिस्टल, मय 01 तमन्चा 315 बोर मय खोखा एवं जिन्दा कारतूस बरामद किये गये हैं। मृत बदमाश के शव का पंचायतनामा भरवाकर पोस्टमार्टम हेतु भिजवाया गया है।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it