Begin typing your search...

तीन दर्जन बस यात्रियों को मौत के मुंह में धकेल कर चलती बस से कूदा चालक

तीन दर्जन बस यात्रियों को मौत के मुंह में धकेल कर चलती बस से कूदा चालक
X

प्रतीकात्मक फोटो 

  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

कौशाम्बी अवैध डग्गामार बसों का संचालन परिवहन विभाग यातायात पुलिस और थाना पुलिस के संरक्षण में हो रहा है इन बस चालको के कारनामों से आए दिन हादसे होते हैं और हादसे के चलते तमाम जिंदगी हादसे की शिकार हो जाती है कुछ लोगों की मौत हो जाती है कुछ लोग अस्पताल में जीवन और मौत से जूझते हैं और तमाम लोग पूरी जिंदगी के लिए अपाहिज हो जाते हैं लेकिन इन घटनाओं के बाद भी पुलिस आला अधिकारी जिला प्रशासन और नेता मंत्री दुष्ट ड्राइवरों के प्रति कार्यवाही करने का थानेदारों पर दबाव बनाने के बजाय मामले को ठंडे बस्ते में डाल देते हैं जिससे दूसरे ड्राइवरों के हौसले बुलंद हैं और आए दिन हादसे होते हैं.

महेवा घाट मंझनपुर से इलाहाबाद सड़क पर चलती बस से कूद जाने से कई हादसे पूर्व में हो चुके हैं सिराथू करारी से बेनीराम कटरा होते हुए इलाहाबाद रोड पर चलने वाली प्राइवेट बसों के चालकों के चलती बस से कूद जाने से पहले कई हादसे हो चुके हैं शनिवार को फिर सराय अकिल थाना क्षेत्र के जयन्तीपुर के पास एक प्राइवेट बस में 40 सवारियों को लेकर जा रहा बस चालक चलती बस से कूदकर फरार हो गया है जिससे सवारियों से भरी बस सड़क पर पलट गई है बस पलट जाने से बस में सवार 40 सवारियां घायल हो गई हैं.

बस की खिड़की सीसे दरवाजे तोड़कर घायल यात्रियों को बस से बाहर निकाला गया है हादसे में घायल यात्रियों को इलाज के लिए निजी नर्सिंग होम स्थानीय सीएचसी और जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है जहां कई घायलों की हालत गंभीर है आखिर बस से कूदकर फरार होने वाले चालक पर हत्या का मुकदमा दर्ज करने और बस मालिक पर हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तारी की कोशिश थाना पुलिस ने क्यों नहीं शुरू की है यह चालक नियमावली में कहां लिखा है कि चलती बस में चालक गाड़ी से कूदकर फरार हो जाएगा और उस पर दुर्घटना का मुकदमा दर्ज होगा.

विजय कुमार पत्रकार

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it