Top
Begin typing your search...

लखनऊ: रकाब गंज चौराहे का नाम बदल कर इतिहासकार स्वर्गीय योगेश प्रवीन का नाम रखा गया

पद्मश्री योगेश प्रवीण का नाम शहर के उन लोगों में शुमार रहा है जिन्होंने लखनऊ को एक अलग पहचान दिलाई

लखनऊ: रकाब गंज चौराहे का नाम बदल कर इतिहासकार स्वर्गीय योगेश प्रवीन का नाम  रखा गया
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ :

बुजुर्गों को गलियों के फरिश्ते नाम देते हुए योगेश प्रवीन ने लिखा है-

लखनऊ है महज गुम्बजो-मीनार नहीं

यह सिर्फ शहर नहीं कूंचा औ बाजार नहीं

इसके दामन मे मुहब्बत के फूल खिलते है

इसकी गलियों में फरिश्तों के पते मिलते हैं...

इनसाइक्लोपीडिया ऑफ लखनऊ के नाम से जाने जाने वाले योगेश प्रवीन को उत्तर प्रदेश सरकार ने ख़ास अंदाज़ में याद करने का मौका दिया है।

उत्तर प्रदेश में आज फिर से एक नया नामकरण सामने आया है ‌।प्रदेश सरकार ने रकाब गंज चौराहे का नाम बदल कर इतिहासकार स्वर्गीय योगेश प्रवीन के नाम रखा है।

पद्मश्री योगेश प्रवीण का नाम शहर के उन लोगों में शुमार रहा है जिन्होंने लखनऊ को एक अलग पहचान दिलाई है। उन्होंने लखनऊ के स्वर्णिम इतिहास को दुनिया के सामने रखा। अपनी पुस्तक लखनऊनामा के जरिये उन्होंने लाखों-करोड़ों लोगों को लखनऊ की रूमानियत, कला, संस्कृति से रूबरू कराया। लखनऊ नामा के लिए उन्हें नेशनल अवार्ड भी मिला। वह विद्यांत हिन्दू कॉलेज से रिटायर हुए थे।

बताया जा रहा है कि यह बदलाव उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा और कानून मंत्री बृजेश पाठक और मेयर संयुक्ता भाटिया की मौजूदगी में किया गया है।उप मुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा ने इतिहासकार स्वर्गीय योगेश प्रवीण को याद करते हुए चौराहे का किया नामकरण किया है।रकाब गंज चौराहे का नाम बदलने के साथ ही स्वर्गीय योगेश प्रवीन के घर को भी संग्रहालय में बदलने की बात कही गई है।


प्रत्यक्ष मिश्रा
Next Story
Share it