Begin typing your search...

इस सूची में 70 वाहनों का हिसाब नहीं है, स्कूटर एक भी नहीं

इस सूची में 70 वाहनों का हिसाब नहीं है, स्कूटर एक भी नहीं
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

भक्त भाई लोग 1000 बसें नहीं होने पर कूद रहे हैं। आधार यही पत्र है। संबित पात्रा और सिद्धार्थ नाथ सिंह भी गलत दावा कर चुके हैं।

इस सूची में कुल मिलाकर 979 वाहनों का ही विवरण है। 70 वाहनों का विवरण इसमें भी नहीं है क्योंकि डाटा उपलब्ध नहीं है। सूची में जो 69 "अन्य वाहन" की श्रेणी है उनमें एम्बुलेंस, स्कूल बस, ट्रक, डीसीएम, मैजिक और टाटा एस हैं। अगर इस सूची को सही मानें तो 31 ऑटो और थ्री व्हीलर के अलावा स्कूटर या ऐसे वाहन नहीं हैं। हालांकि वो बाकी के 70 में हो सकते हैं। लेकिन डाटा ही नहीं है तो पता कैसे चला। जो "अन्य वाहन" एम्बुलेंस, ट्रक या स्कूल बस हैं वो बस की श्रेणी में ही हैं। 69 में अगर कोई बस नहीं है तो वह गलत है लेकिन स्कूल बस और एम्बुलेंस तो बस ही हैं। इसलिए संभव है कि 70 वाहनों का भी हिसाब मिले तो 1000 बसें पूरी हों।

इस सार्वजनिक तथ्य और रहस्य के मुकाबले इंडियन एक्सप्रेस की एक खबर के अनुसार आज दिन में राज्य के मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने आरोप लगाया था कि बसों में स्कूटर, तिपहिए और मालवाहकों के नंबर हैं। सूची में स्कूटर तो नहीं है। अगर 1000 बसों में 31 थ्रीव्हीलर होना गलत है तो एक स्कूटर में एक भी नहीं होना प्रतिशत के हिसाब से ज्यादा बड़ा मामला है और यह भी क्यों होना चाहिए? और जब सूची 1049 की है तो 31ऑटो को वैसे छोड़ दीजिए।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it