Top
Begin typing your search...

इंडिया टुडे के सर्वे से यूपी में बीजेपी का सफाया, सपा बसपा में खुशियाँ ही खुशियाँ तो कांग्रेस भी मुस्काई

इंडिया टुडे के सर्वे में जहाँ बीजेपी की सीटों में भारी गिरावट दर्ज की गई है तो वहीँ सपा बसपा गठबंधन को उत्तर प्रदेश में बड़ी सफलता मिलती नजर आ रही है.

इंडिया टुडे के सर्वे से यूपी में बीजेपी का सफाया, सपा बसपा में खुशियाँ ही खुशियाँ तो कांग्रेस भी मुस्काई
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्तर प्रदेश से पूरे देश की राजनीत चलती है. खासकर केंद्र में उसी की सरकार बनती है जिसे उत्तर प्रदेश वरदहस्त मिलता है. इस दौरान लोकसभा चुनाव का बिगुल बजने को तैयार हो चूका है. तो अब सर्वे के रुझान भी आने शुरू हो गए है. फिलहाल इंडिया टुडे के सर्वे ने बीजेपी के पाँव यूपी से उखाड़ दिए है अगर यह हालात बने तो बीजेपी के पुनर्वापसी दूर की कौड़ी होगी.


इंडिया टुडे के सर्वे में जहाँ बीजेपी की सीटों में भारी गिरावट दर्ज की गई है तो वहीँ सपा बसपा गठबंधन को उत्तर प्रदेश में बड़ी सफलता मिलती नजर आ रही है. तो कांग्रेस की भी दो सीटें बढती नजर आ रही है. सर्वे के मुताबिक बीजेपी को 73 सीटों वाले प्रदेश में महज 18 सीटों पर सिमटता दिखाया गया है. जिसे सुनकर बीजेपी के होश उड़ गये है. 2014 के लोकसभा चुनाव में अस्सी में से तिहत्तर लोकसभा सीटों पर अपना परचम फहरा चुकी बीजेपी को यह सम्भवना किसी भी कीमत पर गले नहीं उतरेगी.


जबकि सर्वे के मुताबिक सपा बसपा के गठबंधन को उत्तर प्रदेश में बड़ी कामयाबी मिलती नजर आ रही है. सपा की पांच सीटें थी और बसपा का कोई उम्मीदवार पिछले चुनाव में नहीं जीता था. उस नई दोस्ती को 58 सीटें मिलने की उम्मीद जताई गई है. जबकि कांग्रेस को भी दो सीटों का इजाफा होते दिख रहा है. इससे सबसे बड़ा नुकसान बीजेपी का होगा अगर बीजेपी को यूपी से ही 55 सीटों का नुकसान हुआ तो बीजेपी की कुल सीटें बहुत ही कम हो जाएँगी. हालांकि अगली सरकार त्रिशंकु सरकार की और अग्रसर हो चुकी है.


बता दें की अगर बीजेपी की सीटें लगभग 200 के आसपास नहीं आई तो फिर बीजेपी के लिए पुनर्वापसी होना मुश्किल ही नहीं नामुमकिन होगा जबकि कांग्रेस 170 सीटों को जीतकर भी सत्ता हासिल कर सकती है. इससे पहले भी यह हो चूका है. क्योंकि बीजेपी के अहंकार के चकते उसके सभी पुराने साथी उसका साथ छोड़ चुके है और नए साथी अब उसकी और देख भी नहीं रहे है और ऐसे में शिवसेना समेत सभी सहयोगी उस पर प्रेशर बनाये हुए है तो बीजेपी की राह आसान नहीं दिख रही है. उसके बाद बुधवार को कांग्रेस ने प्रियंका गांधी के रूप में मास्टर स्ट्रोक खेला है. उसका भी मार्किट में असर दिखना शुरू होगा उसके बाद फिर से सर्वे आएगा. फ़िलहाल बीजेपी के लिए यूपी से बुरी खबर आई है.

शिव कुमार मिश्र
Next Story
Share it