Top
Begin typing your search...

नरेश अग्रवाल और संजय सिंह को फिर मिला ठेंगा, बसपा को दी राज्यसभा की सीट पर वॉकओवर, बीजेपी की सूची जारी

नरेश अग्रवाल और संजय सिंह को फिर मिला ठेंगा, बसपा को दी राज्यसभा की सीट पर वॉकओवर, बीजेपी की सूची जारी
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नई दिल्ली. भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश (UP) की राज्यसभा सीटों (Rajya Sabha Seats) के लिए अपने 8 उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है. इस सूची में कई बड़े चेहरों को जगह मिली है. बीजेपी की लिस्ट में कई बड़े नाम हैं. देश के पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर (Chandra Shekhar) के बेटे नीरज शेखर (Neeraj Sekhar) को भी उम्मीदवार बनाया गया है. इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री हरदीप सिंह पुरी (Hardeep Singh Puri) और बीजेपी महासचिव अरुण सिंह (Arun Singh) को भी उम्मीदवार बनाया है. इस सूची में उत्तर प्रदेश के पूर्व डीजीपी (EX.DGP) बृजलाल (Brij Lal) का भी नाम है.


इसके साथ ही बीजेपी ने उत्तराखंड की एक सीट के लिए लिए नरेश बंसल (Naresh Bansal) को पार्टी का उम्मीदवार बनाया है.


इन बड़े चेहरों पर बीजेपी ने खेला दांव

बता दें कि उत्तर प्रदेश में राज्यसभा की 10 सीटें 25 नवंबर को खाली हो रही हैं. बीजेपी ने सूची में नीरज शेखर, हरदीप सिंह पुरी, बृजलाल, गीता शाक्य, बीएल वर्मा, अरुण सिंह, हरिद्वार दुबे और सीमा द्विवेदी को उम्मीदवार बनाया है.

बीजेपी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक में पार्टी अध्यक्ष जेपी नड्डा की अध्यक्षता में ये फैसला लिया गया है. इस बैठक में प्रत्याशियों के नामों पर फैसला लिया गया. इस बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह, सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के अलावा समिति ने सदस्य मौजूद थे.

11 नवंबर को नतीजे आएंगे

निर्वाचन चुनाव आयोग ने कुछ दिन पहले ही नोटिफिकेशन में कहा था कि राज्य में 10 सीटों पर 27 अक्टूबर को नामांकन और 9 नवंबर को मतदान होगा. 11 नवंबर को नतीजे घोषित किए जाएंगे. उत्तर प्रदेश में विभिन्न राजनीतिक पार्टियों की संख्या को देखते हुए 9 सीटों का गणित तो साफ नजर आ रहा है, लेकिन दसवीं सीट पर बीजेपी और विपक्षी पार्टियों में कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद है.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it