Begin typing your search...

सिपाही पर रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज, जानें पूरा मामला

राजधानी लखनऊ के पीजीआई पुलिस स्टेशन में तैनात सिपाही की आत्महत्या के मामले में पिता ने एक सिपाही पर रेप, आत्महत्या के लिए उकसाने और डीपी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करवाई है।

सिपाही पर रेप और आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज, जानें पूरा मामला
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

राजधानी लखनऊ के पीजीआई पुलिस स्टेशन में तैनात सिपाही की आत्महत्या के मामले में पिता ने एक सिपाही पर रेप, आत्महत्या के लिए उकसाने और डीपी एक्ट के तहत रिपोर्ट दर्ज करवाई है। बताया जा रहा है कि महिला सिपाही की आरोपित से सादी की बात चल ही रही थी।

पीड़ित पिता के अनुसार शारीरिक शोषण करने के साथ ही दहेज में दस लाख रुपये मांग रहा था। माना जा रहा है कि महिला सिपाही ने आरोपित को ही वीडियो कॉल करते हुए खुदकुशी की थी।

आगरा का फतेहाबाद निवासी पिता के मुताबिक 26 वर्षीय बेटी 2021 बैच की सिपाही थी। 11 जनवरी 2022 को पीजीआई पुलिस स्टेशन में तैनात हुई थी। कल्ली पश्चिम में एकता नगर में किराए पर रहने वाली सिपाही ने पंद्रह मई को वीडियो कॉल करते हुए हाथ की नस काटने के बाद फांसी लगा ली थी। पुलिस उसके मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाल रही है।

इस बीची पीड़ित पिता ने पीजीआई पुलिस स्टेशन में तहरीर देते हुए सिपाही अजीत निषाद के खिलाफ केस दर्ज करवाया है।

इंस्पेक्टर धर्मपाल सिंह ने बताया कि पीड़ित पिता का कहना है कि तिर्वा पुलिस स्टेशन में तैनात सिपाही अजीत से बेटी की शादी की बात चल रही ती। इस दौरान आरोपित सिपाही ने शारीरिक शोषण शुरू कर दिया। इतना ही नहीं दहेज में दस लाख रुपये मांग रहा था। तहरीर के आधार पर केस दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है।

Sakshi
Next Story
Share it