Top
Begin typing your search...

मायावती ने कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार से की मांग, चालू सत्र में ही...?

मायावती ने कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार से की मांग, चालू सत्र में ही...?
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ। कृषि कानून को लेकर किसान लगभग आठ महिने से यूपी के बार्डर पर आंदोलन कर रहे है लेकिन अभी भी उस मामले में कोई हल नही निकला है लेकिन बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने सरकार पर किसान आंदोलन को लेकर हमला बोला। मायावती ने केन्द्र सरकार से तीन कृषि कानूनों को चालू सत्र में ही रद्द करने की मांग की है।

मायावती ने शुक्रवार को कहा कि सरकार किसानों के प्रति अड़यिल रवैया अख्तियार कर रही है जो दुख:द है। कृषि कानूनों को लेकर किसान लंबे समय से आंदोलित है। सरकार को किसानों के हमदर्दी बरतते हुए कृषि कानूनों को वापस लेने का फैसला संसद के मानसून सत्र में ही करना चाहिये।

उन्होंने ट्वीट में कहा कि " किसानों के प्रति सरकारों को अहंकारी ना होकर बल्कि संवेदनशील व हमदर्द होना चाहिए। किन्तु दु:ख यह है कि तीन कृषि कानूनों को रद्द करने को लेकर काफी लंबे समय से किसान यहां आंदोलित है अब ये जंतरमंतर पर किसान संसद लगाए हैं केन्द्र चालू सत्र में ही इनको रद्द करें। बीएसपी की यह मांग।"

बतादें कि कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसानों के आंदोलन का नया पड़ाव गुरुवार को शुरू हुआ. दिल्ली के जंतर-मंतर पर किसान प्रदर्शनकारियों द्वारा किसान संसद की शुरुआत की गई. किसान संगठनों के मुताबिक, जबतक संसद का मॉनसून सत्र जारी रहेगा वह हर रोज़ यहां पर ऐसी किसान संसद लगाएंगे।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it