Begin typing your search...

विकास दुबे एनकाउंटर पर मायावती का बड़ा बयान, कहा- 'ब्राह्मण समाज भयभीत और असुरक्षित महसूस कर रहा है'!

मायावती ने एक के बाद एक तीन ट्वीट कर योगी सरकार को आड़े हाथों लिया।

विकास दुबे एनकाउंटर पर मायावती का बड़ा बयान, कहा- ब्राह्मण समाज भयभीत और असुरक्षित महसूस कर रहा है!
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

लखनऊ : विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद राजनीतिक हलकों में इसको लेकर लामबंदी भी शुरू हो चुकी है। इस बीच बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने रविवार को ट्वीट करते हुए योगी सरकार पर निशाना साधा है। बहुजन समाज पार्टी (BSP) प्रमुख ने कहा कि कानपुर कांड के अपराधी विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद ब्राह्मण समाज खुद को भयभीत और असुरक्षित महसूस कर रहा है। मायावती ने एक के बाद एक तीन ट्वीट कर योगी सरकार को आड़े हाथों लिया।

अपराधी की सजा पूरे समाज को नहीं मिले: माया

मायावती ने ट्वीट किया 'बीएसपी का मानना है कि किसी गलत व्यक्ति के अपराध की सजा के तौर पर उसके पूरे समाज को प्रताड़ित व कटघरे में नहीं खड़ा करना चाहिए। इसीलिए कानपुर पुलिस हत्याकाण्ड के दुर्दान्त विकास दुबे व उसके गुर्गों के जुर्म को लेकर उसके समाज में भय व आतंक की जो चर्चा गर्म है उसे दूर करना चाहिए।'



योगी सरकार को दी नसीहत

मायवती ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए लिखा कि 'इसी प्रकार, यूपी में आपराधिक तत्वों के विरूद्ध अभियान की आड़ में छांटछांट कर दलित, पिछड़े व मुस्लिम समाज के लोगों को निशाना बनाना, यह भी काफी कुछ राजनीति से प्रेरित लगता है जबकि सरकार को इन सब मामलों में पूरे तौर पर निष्पक्ष व ईमानदार होना चाहिए, तभी प्रदेश अपराध-मुक्त होगा।'



एनकाउंटर में मारा गया है विकास दुबे

बता दें कि कानपुर शूटआउट का मुख्य आरोपी आज सुबह विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया। यूपी एसटीएफ की गाड़ी विकास को लेकर कानपुर आ रही थी। सुबह करीब साढ़े छह बजे बारिश के बीच गाड़ी अचानक पलट गई। इस हादसे में विकास दुबे और कई सिपाहियों को चोटें आईं। इसके बावजूद विकास की नजरें पुलिस के चंगुल से बचकर भागने पर थी। उसने मौका पाकर एसटीएफ के एक अधिकारी की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की। इसी के बाद मुठभेड़ शुरू हो गई। एसटीएफ ने विकास से हथियार रखकर सरेंडर करने को कहा। वह नहीं माना तो क्रॉस फायरिंग में विकास दुबे ढेर कर दिया गया। मुठभेड़ के बाद विकास दुबे के शव को कानपुर के हैलट अस्पताल लाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया गया।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it