Begin typing your search...

आखिरकार 14 दिन बाद वन विभाग के पिंजरे में कैद हुआ खूंखार तेंदुआ

आखिरकार 14 दिन बाद वन विभाग के पिंजरे में कैद हुआ खूंखार तेंदुआ
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश के महराजगंज जिले में तेंदुए की तलाश में जुटी वन विभाग की टीम को आखिरकार 14 दिन बाद बुधवार की सुबह तेंदुए को पकड़ने में सफलता मिली है। जिले के सोहगीबरवा वन्य जीव प्रभाग के उत्तरी चौक रेंज के टेढ़ीघाट बीट के सेमरहवा गांव के पास टेगरहना टोला में वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजरे में तेंदुआ कैद हुआ है। इसके बाद वन कर्मियों ने राहत की सांस ली। तेंदुए को डीएफओ कार्यालय स्वास्थ्य परीक्षण के लिए ले जाया गया है।

जानकारी के अनुसार, बुधवार की सुबह करीब 5:00 बजे टेगरहना टोला के पास पिंजरे में तेंदुए की गुर्राहट सुनकर लोग सहम गए। जानकारी मिलते ही वहां वन कर्मियों की टीम पहुंची और गांव के लोग भी मौके पर पहुंच गए। वन कर्मियों ने पिंजरे में एक बकरी बांध रखा था, जिसे खाने के लिए तेंदुआ पिंजरे में प्रवेश किया और कैद हो गया।

वन कर्मियों ने बताया कि करीब 14 दिन पहले तेंदुआ एक बालक को मार डाला था। इसके बाद एक महिला व गाय पर भी हमला कर घायल कर दिया था। जिससे जंगल के किनारे बसे गांव के लोग दहशत में थे। घटना के बाद से ही वन कर्मियों की टीम जंगल के किनारे निगरानी बढ़ा दी और लोग भी सतर्क हो गए थे। तेंदुए को पकड़ जाने के बाद सभी लोगों ने राहत की सांस ली है।

ग्राम प्रधान उपेंद्र यादव ने बताया कि तेंदुए के पकड़े जाने से काफी राहत मिली है। घटना के बाद से ही लोगों को सतर्क रहने के लिए जागरूक किया जा रहा है। ग्रामीण महेंद्र यादव, संदीप, चंद्रावती, बन्नी, कांति, आशा आदि ने कहा कि तेंदुआ जब तक पकड़ा नहीं गया था, तब तक बहुत डर लग रहा था। अब राहत मिली है।


सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it