Top
Begin typing your search...

मायावती का ब्राह्मण स्‍ट्रोक, BSP लड़ेगी विकास दुबे के शूटर की पत्‍नी खुशी दुबे का केस!

17 वर्षीय खुशी पिछले एक साल से बाराबंकी के एक किशोर केंद्र में बंद है। बिकरु कांड से नौ दिन पहले ही दोनों की शादी हुई थी।

मायावती का ब्राह्मण स्‍ट्रोक, BSP लड़ेगी विकास दुबे के शूटर की पत्‍नी खुशी दुबे का केस!
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

उत्‍तर प्रदेश के अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के मद्देनज़र हर राजनीतिक दल अपनी-अपनी ओर से सियासी समीकरणों को बनाने-बिगाड़ने में जुटा है। इसी क्रम में पिछले दिनों बसपा सुप्रीमो मायावती ने ब्राह्मण सम्‍मेलनों का ऐलान कर ब्राह्मण पिच पर बढ़त हासिल करने की कोशिश की थी। अब इस दिशा में एक और कदम बढ़ाते हुए बसपा ने बिकरू कांड में कुख्‍यात विकास दुबे के शूटर अमर दुबे की पत्‍नी खुशी दुबे का केस लड़ने का ऐलान किया है। पार्टी महासचिव और राज्‍यसभा सांसद सतीश मिश्र कोर्ट में इस मामले की पैरवी करेंगे।

खुशी दुबे का पति अमर दुबे को इनकाउंटर में मारा जा चुका है। 17 वर्षीय खुशी पिछले एक साल से बाराबंकी के एक किशोर केंद्र में बंद है। बिकरु कांड से नौ दिन पहले ही दोनों की शादी हुई थी। बसपा के पूर्व मंत्री नकुल दुबे ने मीडिया को बताया कि पार्टी नेता और वरिष्ठ अधिवक्‍ता सतीश मिश्रा कोर्ट से खुशी दुबे की रिहाई की मांग करेंगे।

खुशी के खिलाफ गंभीर धाराओं में दर्ज है केस

कानपुर एनकाउंटर केस के सह आरोपी और एनकाउंटर में मारे जा चुके अमर दुबे की पत्‍नी खुशी दुबे के खिलाफ पुलिस ने कई गंभीर धाराएं लगाई हैं। उस पर हत्‍या और आपराधिक साजिश रचने सहित आईपीसी की कई धाराएं लगी हैं। गिरफ्तारी के बाद उसके परिवार ने कानपुर देहात की एक विशेष अदालत में हलफनामा देते हुए दावा किया था कि वह नाबालिग है इसलिए उसे एक किशोर मानते हुए ही कार्यवाही की जानी चाहिए। खुशी के वकील ने कोर्ट में कहा था कि बिकरू में हुए नरसंहार से कुछ ही दिन पहले अमर से उसकी शादी हुई थी। लिहाजा, इस साजिश में उसकी कोई भूमिका नहीं थी। तमाम दलीलों के बावजूद अभी तक खुशी की जमानत नहीं हो सकी है। वह आठ जुलाई से जेल में है।

23 जुलाई को ब्राह्मण सम्‍मेलन करेगी बसपा

उधर, बसपा 23 जुलाई को ब्राह्मण सम्मेलन करने वाली है। सम्‍मेलन की रूपरेखा को अंतिम रूप देने अयोध्या पहुंचे नकुल दुबे ने खुशी का केस सतीश मिश्र द्वारा लड़े जाने की जानकारी दी।

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it