Top
Begin typing your search...

मायावती बोलीं-इस बार सरकार बनी तो मूर्तियां और संग्रहालय बनाने की बजाय, प्रदेश की तकदीर बदलने में लगाएंगे

मायावती बोलीं-इस बार सरकार बनी तो मूर्तियां और संग्रहालय बनाने की बजाय, प्रदेश की तकदीर बदलने में लगाएंगे
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ में आयोजित बसपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन के समापन समारोह मायावती ने कहा कि इस बार सरकार बनने पर उनका फोकस मूर्तियां और संग्रहालय बनाने की बजाय प्रदेश की तस्वीर बदलने पर रहेगा, हमारी सरकार को जितना काम करना था स्मारकों को बनवाना था हमने बनवा दी,मूर्ति पार्क और संग्रहालय अब हम नहीं बनवाएंगे,हम सब मिलकर उत्तरप्रदेश की तस्वीर बदलेंगे..उन्होंने कहा कि इस बार सर्व समाज के साथ ब्राह्मणों की जुगलबंदी से उत्तर प्रदेश में बसपा की सरकार बनने जा रही है।

बसपा ने 23 जुलाई को राष्ट्रीय महासचिव सतीश चंद्र मिश्रा की अगुवाई में अयोध्या से प्रबुद्ध वर्ग विचार गोष्ठी (ब्राह्मण सम्मेलन) की शुरुआत की थी। उसी कड़ी में लखनऊ में मॉल एवेन्यू स्थित पार्टी कार्यालय पर प्रबुद्ध वर्ग के सम्मेलन का समापन किया।

मायावती ने कहा कि हमारी सरकार ने दलित आदिवासी समाज के धार्मिक संतों और गुरुओं का पूरा सम्मान किया। अन्य वर्ग के लोगों के धार्मिक संत-गुरुओं को भी सम्मान दिया जाएगा। मायावती ने कहा कि ब्राह्मण और सभी वर्ग के लोग मिलकर बसपा की सरकार बनाएंगे। 2007 की तरह इस बार भी पूर्ण बहुमत की सरकार बनेगी।

मायावती ने कहा कि भाजपा सरकार में किसानों की आय दोगुना तो नहीं हुई, लेकिन तीन काले कृषि कानून लाकर उनपर अत्याचार जरूर किया गया। किसानों के साथ बहुजन समाज पार्टी संसद से सड़क तक साथ खड़ी है। 500 से ज्यादा किसानों की जान चली गई लेकिन उनकी सुध लेने वाला नहीं है। हरियाणा सरकार ने अत्याचार करते हुए किसानों पर लाठीचार्ज किया। जो घोर निंदनीय हैं। उन्होंने कहा कि बसपा सरकार में गन्ने का मूल्य 125 रुपए प्रति कुंतल से बढ़ाकर 250 रुपए प्रति कुंतल किया गया था। सपा सरकार ने अपने पांच साल के कार्यकाल में केवल एक बार ही गन्ने का मूल्य बढ़ाया।

बसपा प्रमुख ने संघ प्रमुख पर भी निशाना साधा। कहा, मोहन भागवत ने कहा था कि हिंदू और मुसलमान का डीएनए एक है और उनके पूर्वज एक हैं। मैं पूछना चाहती हूं कि अगर उनके पूर्वज एक हैं तो भाजपा उनके साथ सौतेला व्यवहार क्यों कर रही है? मायावती ने कहा कि 2 फरवरी 2021 से लगातार मैं पार्टी पदाधिकारियों के साथ बैठक कर रही हूं और समय-समय पर मीडिया में भी अपनी बातों को रखती हूं। लेकिन कुछ मानसिकता के लोग तरह-तरह की टिप्पणियां करते हैं हम सक्रिय नहीं थे।

सतीश मिश्रा का बयान-

हर दो घण्टे में यूपी में बलात्कार हो रहा है,हाथरस की घटना,खुशी दुबे को बीजेपी ने जेल में बंदकर रखा है,उसकी बेल न होने पाए उसके लिए जितने झूठे कागज़ बनवाए जा सकते थे,BJP ने वो सब बनवाये,2 करोड़ नौकरी मिलेंगी, 15 लाख खाते में आएंगे,भाजपा सिर्फ आपको ठगने का काम कर रही है,5 किलो अनाज बांटने पर अनाज से ज़्यादा मंहगा तो झोला बनवाया क्योंकि उसपर अपनी पार्टी का प्रचार करना था!!

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it