Begin typing your search...

भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर ऐलान, हमें छेडने वालो हम कपड़ों की तरह फाड देंगे

भीम आर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर ऐलान, हमें छेडने वालो हम कपड़ों की तरह फाड देंगे
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मेरठ: जनपद मेरठ के कसेरू बक्सर में भीम आर्मी के कार्यक्रम के लिए प्रशासन की ओर से अनुमति न मिलने से चंद्रशेखर भड़क गए। भीमआर्मी प्रमुख चन्द्रशेखर ने फिर से सार्वजनिक स्थान पर विवादित बोल बोले हैं। अपने समर्थकों के बीच मिले सम्मान से गदगद हुए चन्द्रशेखर ने कहा कि हम चमड़ा उतारना भी जानते हैं, चमड़े का जूता भी बनाना जानते हैं और उस जूते को सिर पर मारना भी जानते हैं। उन्होंने कहा कि हमें छेड़ने वाले अच्छी तरह से जान लें कि हम कपड़ों की तरह फाड़ देंगे।

आपको बता दें कि मेरठ में शनिवार को आयोजन स्थल पर सरकारी अनुमति के बिना ही कार्यक्रम किया जा रहा था। जिला प्रशासन और पुलिस ने इस आयोजन के मंच और वहां चल रही तैयारियों को चन्द्रशेखर के पहुंचने से पहले ही हटवा दिया। सरकार के इस रवैये से भड़के कार्यकर्ताओं ने इसका जमकर विरोध भी किया। लेकिन जब चन्द्रशेखर मेरठ पहुंचे तो उन्होंने जिला प्रशासन और पुलिस को जोश में कड़े शब्दों के साथ चेतावनी दे डाली।

चन्द्रशेखर ने यहां तक कहा कि संविधान से खेलने वालों के लिए भीमआर्मी झंडा और डंडा दोनो मजबूत रखे हुए है। रोड शो करने के बाद पत्रकारों से रूबरू चन्द्रशेखर सामान्य वर्ग को केन्द्र सरकार के 10 फीसदी आरक्षण मुद्दे पर चतुर राजनैतिक की तरह बात करते नजर आये। उन्होंने कहा कि ओबीसी समाज में जाट, गुर्जर और अन्य जातियों के बच्चे आज भी प्राइमरी स्कूलों में पढ़ते हैं। उन्हें रोटी नसीब नहीं है। अपनी सियासी बंदूक को ओबीसी के कंधे पर रखते हुए चन्द्रशेखर ने ओबीसी, मुस्लिम और दलित को भाजपा से मुकाबला करने के लिए साथ आने का आह्वान किया। चन्द्रशेखर ने कहा कि सवर्णो के नाम पर 10 फीसदी आरक्षण संविधान को संविधान का अपमान बताया है।

ओबीसी समाज बीजेपी के खिलाफ आंदोलन शुरू करे तो भीमआर्मी हक की लड़ाई के लिए उन्हें अपना खून तक देने को तैयार है। चुनाव से पहले महागठबंधन का समर्थन करते हुए चन्द्रशेखर ने कहा कि जिस संविधान की वजह से तानाशाह लोग सत्ता की कुर्सी पर बैठे है, वही अब संविधान की हत्या करने पर उतारू है। ऐसे लोगो को रोकने के लिए सामूहिक प्रयास जरूरी है। जो ओबीसी दल अभी गठबंधन से दूर है उन्हें साथ लाने की भीमआर्मी पूरी कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि सभी बहुजन हमारे प्रतिनिधि है, बस वह अपना काम ईमानदारी से करें।

चन्द्रशेखर ने यह भी कहा कि बीजेपी के पास जनता को ठगने का अब शायद कोई हथकंडा नही बचा है। अभी हाल ही में वह राजस्थान में हारे, उनका गुजरात मॉडल पूरी तरह से ध्वस्त हो गया। भाजपा सिर्फ राममंदिर, कुंभ और बजरंगबली के नाम पर राजनीति कर रही है।10 फीसदी आरक्षण से किसी का भी भला नही होगा। यह लोकतन्त्र और संविधान की हत्या है। भीमआर्मी अब इनके प्रयासों को सफल नही होने देगी।।

Special Coverage News
Next Story
Share it