Begin typing your search...

दिल्ली नगर निगम के सफाईकर्मी की मेरठ में चाकू से गोदकर हत्या, दूसरी पत्नी के पहले पति ने दिया वारदात को अंजाम, हत्यारोपी गिरफ्तार

वारदात पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई।

दिल्ली नगर निगम के सफाईकर्मी की मेरठ में चाकू से गोदकर हत्या, दूसरी पत्नी के पहले पति ने दिया वारदात को अंजाम, हत्यारोपी गिरफ्तार
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मेरठ के हस्तिनापुर की बंगाली बाजार कॉलोनी में घर के बाहर खड़े युवक पर अज्ञात हमलावरों ने चाकू से ताबड़तोड़ हमला कर दिया। परिजन आनन-फानन में युवक को गंभीर हालत में सीएचसी मवाना लेकर पहुंचे जहां युवक को मृत घोषित कर दिया। युवक दिल्ली नगर निगम का सफाई कर्मचारी था। हमला करने वाला उसकी दूसरी पत्नी का पहला पति है। एसपी देहात ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है।

मृतक अशोक कुमार दिल्ली नगर निगम का सफाई कर्मचारी था। शनिवार देर शाम लगभग 8 बजे मृतक घर के बाहर खड़ा था तभी वहां रविन्द्र आया और घर के अंदर बैठे अशोक पर ताबड़तोड़ हमला कर दिया। जिसमें अशोक गंभीर रूप से घायल हो गया आसपास के लोग मौके की तरफ दौड़े तो हमलावर फरार हो गया।

पीड़ित परिजनों ने मोहल्ले वासियों की मदद से घायल को मवाना सीएचसी में भर्ती कराया। जहां उसे मृत घोषित कर दिया। बताया जा रहा है कि अशोक त्रिलोकपुरी थाना कल्याणपुरी, दिल्ली में पत्नी कोमल व दो बच्चों के साथ रहता था। करीब डेढ़ साल पूर्व दिल्ली की रहने वाली प्रवेश पत्नी रविंद्र से उसने शादी कर ली थी। इसके बाद प्रवेश के साथ वापस हस्तिनापुर आकर रहने लगा। इसके चलते प्रवेश का पहला पति रविंद्र उससे रंजिश रखता था और कई बार हत्या की धमकी दे चुका था।

सीएचसी पर मौजूद प्रवेश ने बताया कि वह करीब 12 वर्ष पहले अशोक के साथ फरीदाबाद चली गई थी, लेकिन स्वजन उसे वापस ले आए और त्रिलोकपुरी, दिल्ली निवासी रविंद्र से उसका विवाह कर दिया। इस बीच उसके दो बच्चे भी हुए, लेकिन वह अशोक को नही भुला पाई। बाद में वह अशोक के साथ हस्तिनापुर आकर रहने लगी। अब वह आठ माह की गर्भवती है।

शनिवार रात रविंद्र हस्तिनापुर में अशोक के घर पहुंचा और चाकू से वार कर उसे बुरी तरह से लहूलुहान कर दिया। प्रवेश पर भी हमले का प्रयास किया लेकिन वह बच गई। घटना के बाद हत्यारोपित मृतक की स्कूटी लेकर फरार हो गया। अशोक को पीएचसी ले गए, जहां से मवाना सीएचसी रेफर कर दिया। सीएचसी पर उसे मृत घोषित कर दिया गया।

इंस्पेक्टर केपी राठौर मौके पर पहुंचे और शव पोस्टमार्टम को भेजा। वारदात पास में लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। पुलिस ने कैमरा फुटेज कब्जे में ली है।

Arun Mishra

About author
Assistant Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it