Begin typing your search...

अपनी ही सरकार की कारगुजारियों को लेकर पूर्व बीजेपी अध्यक्ष बैठे थाने में धरने पर

अपनी ही सरकार की कारगुजारियों को लेकर पूर्व बीजेपी अध्यक्ष बैठे थाने में धरने पर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

यूपी बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डॉ लक्ष्मीकांत वाजपेयी को अपनी ही सरकार में चोरी का मुकदमा दर्ज कराने के लिए थाने में धरने पर बैठना पड़ा. बता दें कि चोरी की दो बार तहरीर दिए जाने के एक माह बाद भी शिकायत दर्ज नहीं की गयी.


युवक के मेरठ में चोरी की दो बार तहरीर दिए जाने के एक माह बाद भी शिकायत न दर्ज करने पर पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकान्त बाजपेयी थाना सिविल लाइंस में धरने पर बैठ गए. डॉ. वाजपेयी के थाने पर धरने पर बैठने की सूचना सीओ सिविल लाइंस रामअर्ज थाने पहंचे और एसओ को तत्काल मुकदमा दर्ज करने के आदेश दिए. सीओ का कहना है कि जांच मे दोषी पाए जाने वाले पुलिकर्मी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.

मालुम हो कि मेरठ के मुनेंद्र गिरी व्यापारी है. बीते 10 अक्टूबर को उनकी डेयरी पर लाखो की चोरी हो गयी. पीड़ित व्यापारी ने पहले सूरजकुंड चैकी इंचार्ज और इसके बाद सिविल लाइन थाने में चोरी की तहरीर दी. लेकिन उनकी रिपोर्ट नहीं दर्ज नहीं की गयी इतना ही नहीं जब पीड़ित रिपोर्ट का पता करने चौकी और थाने पहुंचे तो उनके साथ वहां अभद्रता की गई. इस पर मुनेंद्र ने बीजेपी के पूर्व प्रदेशाध्यक्ष डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी से इस मामले की शिकायत की. बीजेपी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मीकांत वाजपेयी के पास पहुंचे मुनेंद्र ने थाना और बीजेपी सरकार को भी कोसना शुरू किया तो डॉ. लक्ष्मीकांत वाजपेयी गुस्से में आ गए, और सीधे थाने पहुंचे और परिसर में ही धरना देकर बैठ गए. उन्होंने पुलिस से तत्काल रिपोर्ट दर्ज करने और चोरों का पता लगाने की मांग की.अब देखना है कि इस मामले में पुलिस कब तक कार्यवाही करेगी.

Special Coverage News
Next Story
Share it