Begin typing your search...

कलयुगी बेटी ने बुजुर्ग माँ को निकाला घर से बाहर

कलयुगी बेटी ने बुजुर्ग माँ को निकाला घर से बाहर
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

अक्सर आप सुनते होंगे के कलयुगी बेटे और बहू ने अपने माँ को घर से बाहर निकल दिया है। मगर इस बार के बेटी ने पैसे के लालच में अपनी ही 90 वर्ष की बुजुर्ग माँ को उसके ही घर से बाहर निकाल दिया। सारा मामला मेरठ के सिविल थाना छेत्र के पांडव नगर जी ब्लॉक का है।

दरअसल 90 वर्ष की बुजर्ग महिला शीला कालरा के पति अमरनाथ आजाद हिंद फ़ौज़ में थे जिन्होंने देश की आजादी के लिए अपने प्राण न्योछावर कर दिए। जिसके बाद आश्रित स्वंत्रता सेनानी कि पत्नी को स्वतंत्रता सेनानी कोटे से रहने के लिए फ्लैट दिया गया। बुजर्ग महिला बीमार होने के चलते व अकेलेपन की वजह से कुछ दिनों के लिए अपनी बेटी कृष्णा कालरा को अपने साथ रहने को बुला लिया।

जिसके बाद कलयुगी बेटी ने बैंक के कागजात के बहाने बुज़र्ग महिला से घर के दस्तावेज पर हस्ताक्षर करवा लिए जिसके बाद कलयुगी बेटी ने अपनी 90 वर्ष की बुजुर्ग माँ को घर से बाहर निकाल कर घर मे ताला लगाकर अपने मकान में वापस रहने चली गयी। तब से बुजुर्ग महिला पुलिस थाने से लेकर अधिकारियों तक अपने मकान के लिए चक्कर लगा रही है। इतना ही नही बुजुर्ग महिला हाथ जोड़कर पुलिस से देश की आज़ादी में अपने प्राण न्यौछावर करने वाले पति की भी दुहाई देती नजर आई।

मगर पुलिस मामला कोर्ट में चलने के बात कहकर मामले को टरकाते नजर आई। पुलिस की कार्यशैली से आहत होकर बुजर्ग महिला अपने घर के बाहर ही धरने पर बैठ गयी और इंसाफ की गुहार लगाने नही। बुज़र्ग महिला का कहना है। उसकी बेटी ने धोखाधड़ी की है उसे मकान वापस किया जाए या फिर एसएसपी व डीएम उसको इच्छामृत्यु की अनुमति दे। फिलहाल मौके पर पहुँची पुलिस बुजुर्ग महिला को समझाने के प्रयास में जुटी है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it