Begin typing your search...

मेरठ : फेसबुक पर लव जेहाद, 5 साल लिव इन फिर मां-बेटी की हत्या कर बेडरूम में गाड़ दी लाशें, जानिए- पूरी कहानी

शमशाद ने प्रिया और उसकी बेटी को पहले बेरहमी से कत्ल किया और फिर उनकी लाश अपने ही घर के बेडरूम में गाड़ दी.

मेरठ : फेसबुक पर लव जेहाद, 5 साल लिव इन फिर मां-बेटी की हत्या कर बेडरूम में गाड़ दी लाशें, जानिए- पूरी कहानी
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

मेरठ : मेरठ में डबल मर्डर की सनसनीखेज वारदात की परतें खुलती जा रही हैं. कातिल शमशाद की इस कहानी की शुरुआत फेसबुक पर लव जिहाद से होती है फिर 5 साल तक लिव इन रिलेशनशिप होते हुए डबल मर्डर पर खत्म होती है. शमशाद की पोल खोलते कुछ वीडियो भी मेरठ में वायरल हो रहे हैं. इन वीडियो में साफ दिखाई दे रहा है कि शमशाद ने प्रिया और उसकी बेटी को पहले बेरहमी से कत्ल किया और फिर एक कपड़े में लपेटकर उनकी लाश अपने ही घर के बेडरूम में गाड़ दी. इसी बेडरूम में प्रिया और शमशाद रहा करते थे.

मां-बेटी का शव नमक डालकर बेडरूम में ही दफनाया

पुलिस ने शमशाद के घर का बेडरूम खोदकर मां-बेटी के कंकाल बरामद किए हैं. बेडरूम के करीब 5 फीट नीचे मां-बेटी को कपड़े में लपेटकर नमक डालकर दफनाया गया था. यह करतूत खुद शमशाद ने अंजाम दी ताकि किसी को कानों कान खबर न हो.

फेसबुक पर शमशाद बना अमित गुर्जर

दरअसल पब्लिकेशन बुक बाइंडिंग का ठेका लेने वाले शमशाद की दोस्ती फेसबुक पर प्रिया से हुई प्रिया गाजियाबाद के मोदीनगर में रहती थी. अपने पहले पति से तलाक लेकर ब्यूटी पार्लर चला रही थी. यह दोस्ती प्यार में तब्दील हुई लेकिन तब तक प्रिया को यह मालूम नहीं था कि वह दूसरे धर्म से ताल्लुक रखता है. शमशाद ने खुद को अमित गुर्जर बताया. लेकिन जब दोस्ती प्यार में तब्दील हो गई और दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रहने लगे तो इस बात का खुलासा हो गया. मामूली कहासुनी के बाद दोनों करीब 5 साल तक साथ रहे.

प्लॉट और रुपयों के विवाद में कत्ल

लेकिन इसी दौरान एक प्लॉट और रुपयों के विवाद को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हो गया. 28 मार्च को यह झगड़ा मारपीट में तब्दील हो गया फिर हैवान शमशाद ने पहले प्रिया का गला दबाकर हत्या कर दी. इसके बाद मासूम कशिश की भी गला दबाकर हत्या कर दी गई और फिर अपनी इस हैवानियत को दुनिया की निगाहों से छुपाने के लिए अपने ही घर के बेडरूम में शव को दफना दिया.

शव गाड़कर बना दिया फर्श

शव दफनाने से पहले फुलप्रूफ प्लानिंग भी की गई. शव को पहले कपड़े में लपेट आ गया फिर उसमें नमक डाला ताकि लाश गल जाए और फिर 5 फीट गहरा गड्ढा खोदकर दबा दिया. इतना ही नहीं शब दबाने के बाद बाकायदा शमशाद ने उस पर फर्श भी बना दिया.

इस तरह हुआ खुलासा

लेकिन हैवानियत की इस कहानी का खुलासा उस समय हुआ जब प्रिया की एक दोस्त चंचल कि काफी दिन से बात नहीं हुई. चंचल को शक हुआ तो उसने पुलिस को संपर्क किया. पुलिस ने चंचल को टरका दिया. इस बीच चंचल और पुलिस के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हो गया. इसी वायरल ऑडियो का संज्ञान लेते हुए एसएसपी मेरठ अजय साहनी ने कड़ा एक्शन लिया.

एसएसपी ने लिया एक्शन और शुरू हुई जांच

एसएसपी मेरठ ने ऑडियो वायरल मामले में इंस्पेक्टर क्राइम परतापुर भूपेंद्र सिंह को लाइन हाजिर भी कर दिया और पूरे मामले की जांच क्षेत्राधिकारी ब्रह्मपुरी चक्रपाणि त्रिपाठी को सौंप दी.

पुलिस ने किया गिरफ्तार तो हुआ फरार, अब एनकाउंटर में घायल

करीब 4 दिन पहले चंचल की शिकायत पर पुलिस ने महिला और उसकी बेटी की गुमशुदगी का मुकदमा दर्ज किया. तफ्तीश हुई तो शमशाद से पूछताछ की गई. इस दौरान शमशाद पुलिस की गिरफ्त से फरार हो गया, जिसको आज सुबह पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान घायल कर दिया, अब आरोपी गिरफ्तार है. पुलिस इस हैवान को जेल भेजने की तैयारी में जुटी है.

Arun Mishra

About author
Sub-Editor of Special Coverage News
Next Story
Share it