Begin typing your search...

यूपी में मेरठ, गाजियाबाद समेत नौ रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी, आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने भेजा पत्र

यूपी में मेरठ, गाजियाबाद समेत नौ रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ाने की धमकी, आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा ने भेजा पत्र
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

आतंकी संगठनों द्वारा रेलवे स्टेशनों को उड़ाने की धमकी की जद में अब मेरठ के रेलवे स्टेशन भी आ गए हैं। मंगलवार को आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा की ओर से मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन अधीक्षक को पत्र लिखकर स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी दी गई है।

स्टेशन अधीक्षक को धमकी भरा पत्र मिलने के बाद स्टेशन पर हड़कंप मच गया। स्टेशन अधीक्षक द्वारा थाना जीआरपी और आरपीएफ को इस घटना की जानकारी दी गई। घटना की जानकारी के बाद जीआरपी और आरपीएफ ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए सघन चेकिंग अभियान चलाया।

जीआरपी ने अज्ञात के खिलाफ थाने में मुकदमा दर्ज किया है। धमकी भरा पत्र पुलिस अधीक्षक कार्यालय में भेज दिया गया है। पुलिस ने इसकी जांच शुरू कर दी है। स्टेशन अधीक्षक आरपी सिंह ने बताया कि डाक कर्मी एक पत्र लेकर कार्यालय में आया। पत्र खोलकर देखा तो इसमें रेलवे स्टेशन को बम से उड़ाने की धमकी दी गई थी।

धमकी भरा लेटर आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के नाम से भेजा गया है, जिसमे मेरठ सिटी स्टेशन को उड़ाने की धमकी दी गई है। उन्होंने बताया कि धमकी भरा पत्र मिलने के बाद इसकी सूचना थाना जीआरपी समेत पुलिस उच्चाधिकारियों को दी गई है। इसके अलावा दिल्ली मंडल के उच्चाधिकारियों को भी पत्र के बारे में अवगत करा दिया है।

मेरठ सिटी रेलवे स्टेशन अधीक्षक के नाम से भेजे गए इस पत्र में लिखा है कि मैं अपने जिहादियों की मौत का बदला जरूर लूंगा। खुदा मुझे माफ कर देना, हम हिंदुस्तान को तबाह कर देंगे। 26 नवंबर को गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ, मुजफ्फरनगर, अलीगढ़, खुर्जा, कानपुर, लखनऊ, शाहजहापुर सहित कई रेलवे स्टेशनों को बम से उड़ा देंगे। छह दिसंबर को अयोध्या के हनुमानगढ़ी, रामजन्मभूमि, इलाहाबाद, गाजियाबाद, मेरठ, मुजफ्फरनगर और सहारनपुर समेत यूपी के कई मंदिरों को बम से उड़ा देंगे। हालांकि इससे पहले तीन धमकी भरी चिट्ठी रेलवे स्टेशन पर आई है।

बताया है कि मंगलवार दोपहर में डीआरएम डिमी गर्ग ने रेलवे स्टेशन का निरीक्षण किया था। जीआरपी प्रभारी विजय कांत सत्यार्थी ने बताया कि संवेदनशील मामले को देखते शाम को सभी ट्रेनों में चेकिंग कराई गई है। वहीं, प्लेटफार्म पर मेटल डिटेक्टर की मदद से यात्रियों के सामान की चेकिंग की गई है।




सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it