Begin typing your search...

पुलिस चौकी के पास हादसे में हुई युवक की मौत, परिजनों ने सड़क पर शव के साथ किया हंगामा

उत्तर प्रदेश के मेरठ में किला परीक्षितगढ़ रोड स्थित यादगार पुलिस चौकी के पास गुरुवार देर रात हुए हादसे में युवक की मौत हो गई, परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगाते हुए हंगामा कर दिया...

पुलिस चौकी के पास हादसे में हुई युवक की मौत, परिजनों ने सड़क पर शव के साथ किया हंगामा
X
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • koo

उत्तर प्रदेश के मेरठ में किला परीक्षितगढ़ रोड स्थित यादगार पुलिस चौकी के पास बीते गुरुवार की देर रात हुए हादसे में युवक की मौत हो गई। जिसके बाद परिजनों ने शव को सड़क पर रखकर जाम लगाते हुए हंगामा कर दिया। इसके अलावा मृतक के परिजनों ने हॉस्पिटल के डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया है। पुलिस ने जैसे-तैसे मामले को शांत कर शव पोस्टमार्टम हाउस भेजा।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भावनपुर थाना क्षेत्र के छिलौरा गांव निवासी रविश कुमार परतापुर स्थित फैक्टरी में नौकरी करता था। गुरुवार रात वह काम खत्म कर साइकिल से घर जा रहा था। जैसे ही वह सिविल लाइन क्षेत्र में किला रोड पर यादगारपुर पुलिस चौकी के पास पहुंचा तो अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी। सूचना पर पहुंचे परिजनों ने उसको नजदीक के सर्वोदय नर्सिंग होम में भर्ती कराया। आरोप है कि चिकित्सकों की लापरवाही के चलते मौत हो गई।

जिसके बाद परिवार के लोगों ने शव सड़क पर रखकर जाम लगा दिया। सूचना पर पहुंचे इंस्पेक्टर सिविल लाइन ने काफी मशक्कत के बाद लोगों को समझा-बुझाकर शांत किया और शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इस मामले में एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि मामले में कार्रवाई की जा रही है। चालक का पता लगाया जा रहा है। वहीं चिकित्सकों ने कहा कि युवक को परिजन मृत अवस्था में ही लाए थे। लापरवाही का आरोप गलत है।

बताया गया कि शव को सड़क पर रखकर जाम लगाने के दौरान कुछ लोगों ने वहां से गुजर रहे वाहनों में तोड़फोड़ की कोशिश की। करीब आधे घंटे तक किला रोड पर अराजकता का माहौल रहा है। गनीमत रही कि मेडिकल और सिविल लाइन थाने की पुलिस ऐन वक्त पर पहुंच गई। जिसके चलते स्थिति को संभाल लिया गया।

Sakshi
Next Story
Share it