Top
Begin typing your search...

मिशन शक्ति: निर्मला सीतारमण ने गंगा एक्सप्रेसवे के लिए जारी किए 5100 करोड़, पीएम मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री काल का सुनाया प्रसंग

मिशन शक्ति: निर्मला सीतारमण ने गंगा एक्सप्रेसवे के लिए जारी किए 5100 करोड़, पीएम मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री काल का सुनाया प्रसंग
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित 'मिशन शक्ति' के तीसरे चरण के समारोह को मुख्य अतिथि के रूप में संबोधित करते हुए सीतारमण ने अभियान की सराहना की। मुख्‍यमंत्री योगी के प्रयासों की सराहना करते हुए वित्तमंत्री ने कहा, ऐसे ऊर्जावान मुख्यमंत्री के रहने से ही राज्य प्रगति के पथ पर आगे बढ़ सकता है। मुझे भरोसा है कि उत्तर प्रदेश तेजी से प्रगति के पथ पर आगे बढ़ेगा और उसमें महिलाओं की भी महत्वपूर्ण भूमिका दिखेगी।


मिशन शक्ति के तीसरे चरण के शुभारंभ के मौके पर केन्द्रीय वित्त मंत्री ने गंगा एक्सप्रेस-वे के लिए 5100 करोड़ रुपये जारी किए। उन्‍होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के गुजरात के मुख्यमंत्री काल का प्रसंग सुनाते हुए बताया पंचायतों में महिलाओं की भागीदारी के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने विशेष प्रयत्‍न किया था।

मोदी जी जब 2014 में मुख्‍यमंत्री पद छोड़कर प्रधानमंत्री बने तो दिल्‍ली आने से पहले मिले उपहारों की नीलामी कर कन्‍या शिक्षा के मद में दे दिया। मोदी जी की प्राथमिकता में महिला है, जनधन हो, उज्‍ज्वला योजना हो, स्‍वामित्‍व हो, पोषण अभियान हो या मुद्रा लोन हो, सबमें महिलाओं को ही अग्रणी स्‍थान मिला है। प्रधानमंत्री ने मंत्रिमंडल का विस्‍तार किया तो अधिक से अधिक महिलाओं को मंत्री बनने का मौका दिया।

उन्‍होंने कहा कि प्रधानमंत्री के प्रयास से अधिक से अधिक टीके का उत्पादन हो रहा है और कोरोना काल में हम अधिक से अधिक लोगों को टीके की खुरका दे सकेंगे जिससे आर्थिक संकट से उबरने में मदद मिलेगी। टीकाकरण में गभर्वती महिलाओं को भी प्राथमिकता दी जा रही है।

बतादें कि लखनऊ के इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में आयोजित कार्यक्रम में वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण, राज्यपाल आनंदी बेन पटेल व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सहित कई लोग मौजूद रहे। कार्यक्रम के दौरान मिशन शक्ति के पहले व दूसरे चरण में उल्लेखनीय कार्य करने वाली 47 जिलों की 75 महिला अधिकारियों व कर्मचारियों को मिशन शक्ति पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री निराश्रित महिला पेंशन योजना के तहत 29.68 लाख महिलाओं के खातों 451 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए गए। वहीं, मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के तहत 1.55 लाख बेटियों के खातों में 30.12 करोड़ रुपये हस्तांतरित किए गए। इसके अलावा 59 हजार ग्राम पंचायत भवनों में मिशन शक्ति कक्ष की शुरुआत भी की गई।


यूपी की राज्‍यपाल आनंदीबेन पटेल ने कहा कि हमारी किसी भी योजना के केंद्र में महिला होनी चाहिए और इस विषय को ध्‍यान में रखते हुए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने मिशन शक्ति का शुभारंभ किया है। उन्‍होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ और केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी महिलाओं की सुरक्षा और स्‍वावलंबन के लिए कार्य कर रहे हैं।

सुजीत गुप्ता
Next Story
Share it