Top
Begin typing your search...

सिसौली में बीजेपी विधायक पर हुआ हमला, नरेश टिकैत और संजीव बालियान आमने सामने , देखिये वीडियो

संजीव बालियान ने इस मामले पर जाकर थाने में कही ये बड़ी बात

सिसौली में बीजेपी विधायक पर हुआ हमला,  नरेश टिकैत और संजीव बालियान आमने सामने , देखिये वीडियो
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुजफ्फरनगर। किसान राजधानी कहे जाने वाले जनपद के कस्बा सिसौली में भाजपा विधायक उमेश मलिक का जमकर विरोध किया गया और उनकी कार पर कालिख फेंक दी गई। इस दौरान भीड़ ने उनकी गाड़ी पर पथराव भी किया। घटना की जानकारी लगने पर पुलिस पहुंची और जांच शुरू की। उधर घटना की जानकारी मिलने पर केंद्रीय मंत्री डॉ0 संजीव बालियान भी समर्थकों के सैलाब के साथ भौराकलॉ थाना पहुंच गए। बताया जा रहा है कि विधायक की ओर से इस संबंध में आरोपी किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराए जाने की तैयारी की जा रही है। सिसौली में भारतीय जनता पार्टी के विधायक उमेश मलिक पर हुए हमले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने बड़ा बयान दिया है।


सिसौली में भाजपा विधायक उमेश मलिक के भारी विरोध तथा उनकी गाड़ी पर किए गए हमले को लेकर मीडिया से बात करते हुए भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि वह खेत पर थे जहां उन्हें घटना की जानकारी हुई इसके बाद वह गांव आए। उन्होने कहा कि भाजपा विधायक पर हुए हमले में न तो उनके परिवार ओर न ही उनके संपर्क का कोई व्यक्ति शामिल है।

उन्होंने कहा कि विरोध क्यों हो रहा है इसका अंदाजा भाजपा के लोग खुद लगाएं। भाजपा विधायक उमेश मलिक पहले भी गांव में आए हैं, लेकिन इससे पहले उनका कोई विरोध नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि विधायक उमेश मलिक पहले भी सिसौली आए हैं उनके घर आए हैं। उन्होंने कहा कि किसान नेता वीएम सिंह भी सिसौली में थे, लेकिन कुछ गलतफहमियां पैदा की गई, जिसके कारण वह उनके घर तक नहीं आए। उन्होंने कहा कि आज की घटना में शामिल बच्चों को समझाया जाएगा। विधायक भी ऐसा कोई कदम न उठाएं जिसके कारण ऐसी घटनाएं हों।

बताया गया कि गांव सिसौली में एक कार्यक्रम में भाग लेने गए बुढ़ाना के भाजपा विधायक उमेश मलिक का जबरदस्त विरोध हुआ। लोगों ने उमेश मलिक के मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए उनकी कार पर कालिख फेंक दी। इस दौरान भीड़ ने उनकी स्कॉर्पियो कार पर पथराव किया, जिससे उनकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। इस दौरान विधायक और अन्य नेताओं ने भागकर अपनी जान बचाई।

मिली जानकारी के अनुसार उमेश मलिक का कहना है कि उन पर जानलेवा हमला किया गया है। मलिक ने बताया कि हमला भारतीय किसान यूनियन के लोगों ने किया है। पथराव में उनके सहायक धर्मेंद्र और सुरक्षाकर्मी कांस्टेबल दीपक को चोट लगी है। विधायक ने बताया कि इस संबंध में वे भोराकला थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराएंगे। बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक सिसौली में जन कल्याण समिति की पहली वर्षगांठ पर हुए कार्यक्रम में भाग लेने गए थे।

सिसौली में आज भारतीय जनता पार्टी के विधायक उमेश मलिक के विरोध तथा उन पर हुए हमले को लेकर केंद्रीय मंत्री डॉ संजीव बालियान ने कड़ा रुख अख्तियार किया है। संजीव बालियान की अगुवाई में बड़ी संख्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने थाना भौराकलॉ का घेराव किया। तनाव के हालात देखते हुए डीएम एसएसपी भी मौके पर पहुंचे।

कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री डॉ संजीव बालियान ने कहा कि जो घटना हुई उसका सबको दुख है। हम इतने कमजोर भी नहीं कि दुख मनाएं, लेकिन हम सरकार में हैं, कुछ चीजें सहन करनी पड़ती है। अगर कोई इसे हमारी कमजोरी समझ रहा है तो यह उसका बहम है। जो खून उनमें है, वही हममें है। वह खुद को संभाल ले तो बेहतर रहेगा, बाकी उनकी इच्छा है। उन्होंने एसएसपी से कहा कि या तो इस मामले में कड़ी कार्रवाई करें या फिर बीच से हट जाएं। उन्होने उत्तेजित कार्यकर्ताओं से पुलिस विभाग को समय देने के लिए कहा।

किसान राजधानी कहे जाने वाले जनपद के कस्बा सिसौली में भाजपा विधायक उमेश मलिक का जमकर विरोध किया गया और उनकी कार पर कालिख फेंक दी गई। इस दौरान भीड़ ने उनकी गाड़ी पर पथराव भी किया। घटना की जानकारी लगने पर पुलिस पहुंची और जांच शुरू की। उधर घटना की जानकारी मिलने पर केंद्रीय मंत्री डॉ0 संजीव बालियान भी समर्थकों के सैलाब के साथ भौराकलॉ थाना पहुंच गए हैं। बताया जा रहा है कि विधायक की ओर से इस संबंध में आरोपी किसानों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराए जाने की तैयारी की जा रही है। सिसौली में भारतीय जनता पार्टी के विधायक उमेश मलिक पर हुए हमले को लेकर भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी नरेश टिकैत ने बड़ा बयान दिया है।

सिसौली में भाजपा विधायक उमेश मलिक के भारी विरोध तथा उनकी गाड़ी पर किए गए हमले को लेकर मीडिया से बात करते हुए भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष नरेश टिकैत ने कहा कि वह खेत पर थे जहां उन्हें घटना की जानकारी हुई इसके बाद वह गांव आए। उन्होने कहा कि भाजपा विधायक पर हुए हमले में न तो उनके परिवार ओर न ही उनके संपर्क का कोई व्यक्ति शामिल है।

उन्होंने कहा कि विरोध क्यों हो रहा है इसका अंदाजा भाजपा के लोग खुद लगाएं। भाजपा विधायक उमेश मलिक पहले भी गांव में आए हैं, लेकिन इससे पहले उनका कोई विरोध नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि विधायक उमेश मलिक पहले भी सिसौली आए हैं उनके घर आए हैं। उन्होंने कहा कि किसान नेता वीएम सिंह भी सिसौली में थे, लेकिन कुछ गलतफहमियां पैदा की गई, जिसके कारण वह उनके घर तक नहीं आए। उन्होंने कहा कि आज की घटना में शामिल बच्चों को समझाया जाएगा। विधायक भी ऐसा कोई कदम न उठाएं जिसके कारण ऐसी घटनाएं हों।

बताया गया कि गांव सिसौली में एक कार्यक्रम में भाग लेने गए बुढ़ाना के भाजपा विधायक उमेश मलिक का जबरदस्त विरोध हुआ। लोगों ने उमेश मलिक के मुर्दाबाद के नारे लगाते हुए उनकी कार पर कालिख फेंक दी। इस दौरान भीड़ ने उनकी स्कॉर्पियो कार पर पथराव किया, जिससे उनकी गाड़ी क्षतिग्रस्त हो गई। इस दौरान विधायक और अन्य नेताओं ने भागकर अपनी जान बचाई।

मीडिया में आई खबरों के अनुसार उमेश मलिक का कहना है कि उन पर जानलेवा हमला किया गया है। मलिक ने बताया कि हमला भारतीय किसान यूनियन के लोगों ने किया है। पथराव में उनके सहायक धर्मेंद्र और सुरक्षाकर्मी कांस्टेबल दीपक को चोट लगी है। विधायक ने बताया कि इस संबंध में वे भोराकला थाने पर रिपोर्ट दर्ज कराएंगे। बुढ़ाना विधायक उमेश मलिक सिसौली में जन कल्याण समिति की पहली वर्षगांठ पर हुए कार्यक्रम में भाग लेने गए थे।



Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it