Top
Begin typing your search...

प्रेमिका के आधी रात आये फोन से जब मिलने पहुंचा कार लेकर शिक्षक, तो जो हुआ सुनकर दहल जायेंगे आप

उसी दिन शिक्षक की कार व मोबाइल कस्बा स्थित कांशीराम आवासीय कॉलोनी के सामने लावारिस मिल गए।

प्रेमिका के आधी रात आये फोन से जब मिलने पहुंचा कार लेकर शिक्षक, तो जो हुआ सुनकर दहल जायेंगे आप
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

मुजफ्फरनगर। जब आशिकी का जूनून सर पर सवार हो और फिर प्रेमिका का फोन आ जाए तो फिर दिन हो रात प्रेमी विछोह कसे बर्दास्त कर सकता है बस यही चूक जानलेवा बनी और मौत के और खिंचा चला गया शिक्षक। जबकि लम्बे समय से चल रहे शादीशुदा शिक्षक के अवैध संबंध के चलते पत्नी उसके साथ मुजफ्फरनगर छोडकर जानसठ रहने लगी, मगर प्रेमिका के आधी रात आए फोन को सुनते ही शिक्षक अपनी कार लेकर गाजियाबाद के लिए निकल गया। बताए गए स्थान पर पहुंचा तो वहां प्रेमिका के साथ उसका पति भी खडा मिला। उसके बाद जो हुआ वह बडा ही खतरनाक वाकया था सुनकर जानकर आप दहल जाएंगे।

मिली जानकारी के मुताबिक जानसठ थाना क्षेत्र के नयागांव फैजाबाद निवासी राधेश्याम (38) गांव मंतोड़ी के सरकारी स्कूल में शिक्षक था। वर्तमान में परिवार के साथ कस्बे के मोहल्ला हुसैनपुरा में किराये के मकान में रहता था। दो जून की रात करीब 9.30 बजे मोबाइल पर किसी की कॉल आने पर शिक्षक कार लेकर घर से निकला था, लेकिन इसके बाद वह लापता हो गया। परिजनों ने तीन जून को थाने में उसकी गुमशुदगी दर्ज करा दी थी। उसी दिन शिक्षक की कार व मोबाइल कस्बा स्थित कांशीराम आवासीय कॉलोनी के सामने लावारिस मिल गए।

इंस्पेक्टर डीके त्यागी ने बताया कि जांच के दौरान मेरठ बाईपास स्थित वंडर सिटी निवासी अजयपाल को शक के आधार पर हिरासत में लेकर पूछताछ की गई, तो उसने शिक्षक की दो जून को ही हत्या कर शव मुरादनगर गंगनहर में फेंकने की जानकारी दी। इस पर गंगनहर में शव की तलाश करते हुए बुलंदशहर से उसे बरामद कर लिया गया। परिजनों द्वारा शव की पहचान कर लिए जाने पर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पीएम रिपोर्ट में दो गोली लगने से शिक्षक की मौत होने की बात सामने आई।

इंस्पेक्टर ने बताया कि इसी दौरान उसके पति को पता चला कि युवती के संबंध शिक्षक से हैं। उसने दो जून को एक फर्जी आईडी पर लिए हुए सिम से पत्नी से कॉल कराकर राधेश्याम को राजनगर बुलाया। राधेश्याम वहां पहुंचा तो आरोपियों ने पहले तो उसे चाकू से मारने का प्रयास किया।

इंस्पेक्टर ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि शिक्षक पहले मुजफ्फरनगर सिटी में रहता था। यहां रहते हुए वह कंप्यूटर क्लास लेता था। इसी दौरान उसके संबंध एक गांव निवासी युवती से हो गए। पत्नी को इसकी जानकारी मिली तो वह जबरन परिवार को जानसठ ले गई, जिसके बाद से वे वहीं रह रहे थे, लेकिन युवती के साथ उनके संबंध कायम रहे। उधर, युवती ने मुरादनगर क्षेत्र के गांव जीतपुर निवासी अपने मौसा अजयपाल से शादी कर ली। इससे खफा युवती के परिजनों ने उससे संबंध खत्म कर लिए। इस पर उसके पति ने युवती को गाजियाबाद के राजनगर एक्सटेंशन स्थित एक अपार्टमेंट में फ्लैट खरीदकर दे दिया, जिसके बाद वे वह वहीं रहने लगी।इसके बाद हत्यारोपी अजयपाल ने तमंचे से उसके सीने में दो गोलियां मारकर उसकी हत्या कर दी। इसके बाद दोनों आरोपी राधेश्याम की कार व मोबाइल लेकर रात में ही जानसठ पहुंचे और उन्हें सड़क किनारे छोड़कर चले गए।

राजनगर पहुंचकर हत्यारोपी ने शिक्षक की लाश को एक बैग में पैक किया और उसे अपनी कार से ले जाकर गाजियाबाद स्तिथ मुरादनगर गंगनहर में फेंक दिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि हत्यारोपी के पास से हत्या में प्रयुक्त कार, असलहा के साथ ही वह मोबाइल भी बरामद कर लिया है, जिसमें फर्जी आइडी पर लिया गया था। सिम डालकर राधेश्याम को कॉल कर राजनगर बुलाया गया।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it