Top
Begin typing your search...

नोएडा में मुख्यमंत्री ने किया मेट्रो की एक्वा लाइन का उद्घाटन

मुख्यमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया कि मेट्रो को नोएडा आैर ग्रेटर नोएडा के बाद जल्द ही गाजियाबाद से जोड़ा जाएगा।

नोएडा में मुख्यमंत्री ने किया मेट्रो की एक्वा लाइन का उद्घाटन
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

धीरेन्द्र अवाना

नोएडा। जिला गौतमबुद्ध नगर एक ऐसा जिला जहा नोएडा व ग्रेटर नोएडा जैसे दो शहर है जहा से प्रदेश सरकार को सबसे ज्यादा राजस्व जाता है या यू कहे कि ये दो कमाऊ पूत है। प्रदेश सरकार भी इनको निराश न करके कई सौगात व योजनाए देकर इनका उत्साह बढ़ाती है। इसी क्रम में 25 जनवरी को नोएडा से ग्रेटर नोएडा जाने वाली मेट्रो की एक्वा लाईन का उद्घाटन सीएम योगी ने किया। मुख्यमंत्री ने लोगों को भरोसा दिलाया कि मेट्रो को नोएडा आैर ग्रेटर नोएडा के बाद जल्द ही गाजियाबाद से जोड़ा जाएगा।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ,आगरा और पूर्वी यूपी में आने वाले कानपुर शहर में मेट्रो का विस्तार करने का एेलान किया।इन शहरों में करीब 36 हजार करोड़ रुपये की लागत से होगा मेट्रो का विस्तार। इसके लिए डीपीआर तैयार कराई गई है।इसके लिए जल्द ही केंद्र से मंजूरी भी मिलेगी।इसके बाद नोएडा अथॉरिटी के पांच प्रोजेक्ट का उद्घाटन व तीन परियोजना का शिलान्यास किया और ग्रेटर नोएडा ईकोटेक-6 में ग्रीनफील्ड इलेक्ट्रॉनिक्स मेनीफेक्यूरेर कलस्टर का शिलान्यास किया।

नोएडा ग्रेटर नोएडा मेट्रो प्रोजेक्ट लगभग 5 हज़ार 500 करोड़ की लागत से बनकर तैयार हुआ है। नोएडा से ग्रेटर नोएडा तक 29. 707 किलोमीटर लम्बी लाइन बिछाई गयी है। मेट्रो का सफर करने के दौरान मुख्यमंत्री किसी भी स्टेशन पर उतरने की आकांशा के चलते व्यवस्था को एक दिन पहले ही सुनिश्चित किया गया। एक्वा लाइन की सुरक्षा के लिए 1000 सीसीटीवी कैमरे,600 पीएसी जवान और 429 निजी सुरक्षाकर्मी 24 घंटे तक रहेंगे।


माना यह जा रहा है कि इस लाइन के शुरू होते ग्रेटर नोएडा क्षेत्र में खाली पड़े लाखों फ्लैट्स भर जायेगे। 21 मेट्रो स्टेशन के साथ इस पूरी लाइन की लंबाई 30 किलोमीटर है।आप बता दें कि पहले इस लाइन को 25 दिसंबर पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेई के जन्मदिन पर शुरू करने की योजना थी। लेकिन किन्ही कारणों की वजह से उस वक्त लाइन का उद्धाटन नही हो पाया।इसके बाद प्रदेश सरकार साहिबाबाद के हिंडन एयरफोर्स पर आम जनता के लिए हवाई सेवा भी अगले महीने शुरू करने की योजना पर काम रही है। वही जेवर में एयरपोर्ट का शिलान्यास भी लाइन में है। इससे पहले भी ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस वे शुरू किया जा चुका है। नोएडा एनसीआर में नई नई सौगात देकर सरकार जनता को बताना चाहती है कि भाजपा ही आम आदमी का एकमात्र विकल्प है।

Special Coverage News
Next Story
Share it