Top
Begin typing your search...

प्रदेश सरकार के नियमों की अवहेलना करता डीएवी स्कूल

कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी शिक्षिकाओं और बच्चों को स्कूल आने के लिए किया बाध्य

प्रदेश सरकार के नियमों की अवहेलना करता डीएवी स्कूल
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

(धीरेन्द्र अवाना)

नाेएडा।प्रदेश में कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए योगी सरकार ने बड़े कदम उठाते हुये आदेश जारी किया है कि सरकारी-गैर सरकारी सभी विद्यालयों में छुट्टी रहेगी।कक्षा 1 से 12वीं तक के सभी स्कूल बंद रहेंगे।प्रदेश के कोचिंग सेंटर भी बंद रखने के आदेश जारी किए हैं।वही दूसरी ओर नोएडा के सैक्टर-५६ स्थित डीएवी स्कूल प्रदेश सरकार व जिला प्रशासन के आदेशों को ढ़ेगा दिखाने का कार्य कर रहा है।

आपको बता दे कि डीएवी स्कूल में नौवीं से 12वीं तक की कक्षाएं चल रही है। वही स्कूल में करीब 50 शिक्षक पढ़ाने आते है जो बच्चों को ऑनलाइन क्लास देते है।दिनांक पांच अप्रैल को स्कूल की दो शिक्षिकाओं अर्चना शुक्ला और पूजा कांची कोरोना संक्रमित हुयी। जांच में दोनों कोरोना पॉजिटिव पायी गयी।दिंनाक सात अप्रैल को स्कूल में फिर से एक शिक्षिका निवेदना सिंह कोरोना पॉजिटिव पायी गयी।दिनांक नौ अप्रैल फिर से दो शिक्षिकाओं वेनिका चावड़ा व एक अन्य कोरोना पॉजिटिव पायी गयी।

इतना होने के बाबजूद भी स्कूल प्रशासन ने बच्चों और शिक्षिकाओं की जान से खिलवाड़ करते हुये लगातार बच्चों और शिक्षिकाओं को स्कूल में आने के लिए बाध्य किया।हद तो तब हो गयी जब स्कूल प्रशासन ने इसकी जानकारी स्वास्थ्य विभाग को देना भी उचित नही समझा।

इस संम्बंध जब जिला विद्यालय निरीक्षक धर्मवीर सिंह को जानकारी दी तो स्कूल प्रशासन से विभाग को भी भाम्रित करने की कोशिश की।जिला विद्यालय निरीक्षक धर्मवीर सिंह का कहना है कि मामला की जांच कराके दोषी के खिलाफ कारवाई की जायेगी।अब देखना ये है कि ये स्कूल ऐसे ही नियमों की अवहेलना करता रहेगा या फिर इसके खिलाफ कोइ कारवाई होती है।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it