Top
Begin typing your search...

वीआईपी ट्रीटमेंट लेने के चक्कर में फर्जी IPS की खुली पोल, फर्जी पीआरओ समेत हुआ गिरफ्तार

वीआईपी ट्रीटमेंट लेने के चक्कर में फर्जी IPS की खुली पोल, फर्जी पीआरओ समेत हुआ गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा पुलिस ने आज एक बड़ी कामयाबी हासिल की है. जिले की थाना एक्सप्रेस वे जनपद गौतम बुद्ध नगर क्षेत्र में एक फर्जी आईपीएस अधिकारी व उसका फर्जी पीआरओ गिरफ्तार किये गए हैं. यह जानकारी नोएडा पुलिस द्वारा दी गई.

एसएसपी वैभव कृष्ण ने बताया कि अभियुक्त आदित्य दीक्षित पुत्र देवेंद्र दीक्षित निवासी कस्बा व थाना सिकंदराराऊ जिला हाथरस उत्तर प्रदेश का रहने वाला व्यक्ति अपने आप को गृह मंत्रालय , नई दिल्ली में साइबर अपराध डिपार्टमेंट का हेड बता रहा था. साथ ही अभियुक्त अखिलेश यादव पुत्र नरेश नरेश सिंह यादव ग्राम शिवपुर थाना किशनी जिला इटावा यह व्यक्ति अपने आप को फर्जी आईपीएस का पीआरओ बता रहा था. यह दोनों होटल कृष्णा लिविंग सेक्टर 126 ,थाना एक्सप्रेसवे क्षेत्र में अपने आप को गृह मंत्रालय में साइबर क्राइम डिपार्टमेंट का अधिकारी बना कर रात 27/28 जून 2019 की रात में रुके थे.

उन्होंने बताया कि यह दोनों होटल वालों पर अपना रौब दाब दिखा कर निरंतर मुफ्त में खाना खा रहे थे. आज इन ठगों द्वारा अपनी मारुति बलेनो गाड़ी में फ्यूल टैंक फुल करवाने के लिए होटल स्टाफ पर जबरन दबाव बनाया गया और उनके साथ अभद्रता की गई. इनकी संदिग्ध गतिविधियां देख कर होटल मैनेजर ने थाना एक्सप्रेस वे को सूचना दी. दोनों अभियुक्तों को थाने लाकर पूछताछ की गयी तथा अभियुक्तों के विरुद्ध मु.अ.स. 153/19 समुचित धाराओं में पंजीकृत कर अग्रिम विधिक कार्रवाई की जा रही है.


Special Coverage News
Next Story
Share it