Top
Begin typing your search...

नोएडा में सेक्टर 94 में Covid 19 से मरने वालों के लिए मुफ्त सीएनजी दाह संस्कार शुरू

नोएडा में सेक्टर 94 में Covid 19 से मरने वालों के लिए मुफ्त सीएनजी दाह संस्कार शुरू
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

नोएडा: गौतमबुद्ध नगर में Covid -19 से मरने वालों के लिए नोएडा लोक मंच नामक एक एनजीओ जो कि सेक्टर 94 में श्मशान घाट का प्रबंधन करता है, उसने कोविड -19 से मरने वाले लोगों के लिए मुफ्त सीएनजी श्मशान सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया है. वैसे सेक्टर 94 की सुविधा में सीएनजी दाह संस्कार की कीमत 2,300 रुपये है.

जबकि निर्णय उस जरूरतमंद के पक्ष में लिया गया है, जिसके परिजनों को कोविड से मृत्यु हुई हो,और जो भुगतान करने के इच्छुक हैं, उन्हें रोका नहीं जाएगा.

एनएलएम के महासचिव महेश सक्सेना ने कहा कि "नोएडा में कोविड 19 से मौत की संख्या बढ़कर तीन हो गई, एनएलएम ने कोविड -19 हताहतों के लिए मुफ्त सीएनजी श्मशान सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया है। यह निर्णय मुख्य रूप से उस पीड़ित की हालत के बाद झटका लगे पीड़ित पीड़ित परिवार को ध्यान में रखते हुए लिया गया, जो कि अभी तक इलाज योग्य भी नहीं था. इसके अलावा, कई लोग ऐसे भी आकस्मिक मौतों के समय में गरीब या बिना संसाधनों के हैं और भुगतान करने की स्थिति में नहीं हैं.तो हमने महसूस किया कि उन्हें इस तरह के दुख के समय भुगतान के बोझ से दुखी नहीं होना चाहिए,.

सक्सेना कहते हैं कि फिलहाल सीएनजी पर 2,300 रुपये का सीएनएम शुल्क लगता है जिसमें सीएनजी यूनिट के लिए 2000 रुपये और पंडित (पुजारी) के लिए 300 रुपये जो अब एनएलएम द्वारा वहन किया जाएगा. सक्सेना ने कहा, "अगर हताहतों की संख्या बहुत बढ़ जाती है, तो हम बाद में बात करेंगे और नोएडा प्राधिकरण और जिला प्रशासन से मदद लेंगे."

सक्सेना के अनुसार, जबकि एनएलएम पिछले 20 वर्षों से सेक्टर 94 की सुविधा में लावारिस शवों का नि: शुल्क दाह संस्कार कर रहा है, वे शवों के लिए नि: शुल्क पैकेजिंग सामग्री भी प्रदान करते हैं, जो कि सेक्टर 94 श्मशान सुविधा के पास आयोजित की जाती हैं.

यहां तक ​​कि जिला मजिस्ट्रेट सुहास एलवाई और नोएडा प्राधिकरण के अधिकारी विजय रावल ने 12 मई को श्मशान घाट का दौरा भी किया, जिसमें सेक्टर 19 के एक कोविड 19 से मरीज की मौत हो गई थी, जिनके परिवार और दोस्त अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो पाए थे, नोएडा प्राधिकरण और जिला वन विभाग ने एनएलएम की मदद की थी अंतिम संस्कार के लिए सभी रसद की खरीद की जिसमें स्वास्थ्य विभाग से सामान्य अंतिम संस्कार और स्वच्छता के मामले में सीएनजी भट्टियां, लकड़ी शामिल हैं.

परिसर में सामान्य लकड़ी से भी अंतिम संस्कार किए जाते हैं जिनकी कीमत लगभग 3,000 रुपये है. इसमें लकड़ी के लिए 2,200 रुपये, पंडित के लिए 300 रुपये और 500 रुपये रखरखाव शुल्क शामिल हैं.

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it