Top
Begin typing your search...

डीसीपी हरीश चन्दर के नेतृत्व में नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुठभेड़ के दौरान सुन्दर भाटी गैंग के चार शार्प शूटर गिरफ्तार

डीसीपी हरीश चन्दर के नेतृत्व में नोएडा पुलिस को मिली बड़ी सफलता, मुठभेड़ के दौरान सुन्दर भाटी गैंग के चार शार्प शूटर गिरफ्तार
X
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp
  • Telegram
  • Linkedin
  • Print

(धीरेन्द्र अवाना)

नोएडा। अपराध पर अंकुश लगाने वाली पुलिस को आज उस वक्त एक बड़ी सफलता हाथ लगी जब पुलिस ने मुठभेड़ के दौरान सुन्दर भाटी गैंग के चार शार्प शूटरों को गिरफ्तार किया।जो सुपारी लेकर किसी भी व्यक्ति की हत्या करने का कार्य करते थे। आपको बता दे कि पुलिस आयुक्त आलोक सिंह के निर्देश पर जिले में अपराधियों के ऊपर निंरतर कारवाई की जा रही है।पुलिस आयुक्त के निर्देश का पालन करते हुये डीसीपी हरीश चन्दर, एडीसीपी अंकुर अग्रवाल ने अपनी क्षेत्र से अपराध व अपराधियों को जड़ से खत्म करने के लिए जी तोड़ मेहनत करके अपने क्षेत्र में कई खुलासे करके ये दिखा दिया है कि मेहनत की जाये तो कुछ भी किया जा सकता है।

नोएडा: इसी क्रम में थाना इकोटेक-3 पुलिस एवं एसओजी टीम ने दिनांक 18.मार्च.2020 को चैकिग के दौरान थाना क्षेत्र के डी-पार्क चैकी के सामने 130 मीटर रोड पर पुलिस ने संदिध्य दिखने पर शिफ्ट कार में सवार चार व्यक्तियों को रोकने का प्रयास किया लेकिन पुलिस को देखकर वो लोग भागने लगे लेकिन पुलिस ने चुस्ती दिखाते हुये बदमाशों की घेराबंदी शुरु की। अपने को फंसता देख बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग की। पुलिस ने दिलेरी दिखाते हुये चारों बदमाशों को गिरफ्तार किया। पकड़े गये अभियुक्तों को सुन्दर भाटी गैंग के चार शार्प शूटर बताया जा रहा है।

अभियुक्तों की पहचान धमैन्द्र उर्फ रिंकू पुत्र जगदीश निवासी गांव नरौली थाना जारचा गौतमबुद्ध नगर,राजू भाटी पुत्र सुलखे भाटी निवासी गांव पल्ला थाना दादरी गौतमबुद्ध नगर,नरेन्द्र उर्फ निनदर पुत्र जिला सिंह निवासी साकीपुर थाना सुरजपुर गौतमबुद्ध नगर और संजय पुत्र ज्ञान चन्द्र निवासी गांव बढ़पुरा थाना दादरी गौतमबुद्ध नगर के रूप में हुयी। जिले के विभन्न थानों में धमैन्द्र के खिलाफ करीब आधा दर्जन मुकदमे,राजू भाटी के पांच मुकदमें,नरेन्द्र के खिलाफ चार मुकदमें और संजय के खिलाफ चार मुकदमें दर्ज है। जिनके कब्जे से एक शिफ्ट कार,दो पिस्टल 32 बोर,दो पिस्टल 9 डड बोर,7 कारतूस .32 बोर,2 कारतूस 9 एमएम बोर,2 खोखा कारतूस .32 बोर,2 खोखा कारतूस 9 एमएम बोर के बरामद हुये।गैंग के सदस्य भाडे पर सुपारी लेकर हत्या करने का कार्य करते है।

पूछताछ के दौरान अभियुक्तों ने बताया कि अलीगढ की जेल में सजा काट रहा सुन्दर भाटी गैंग का सक्रिय सदस्य अवधेश उर्फ अन्नी के इशारे पर हमने बागपत निवासी नरेन्द्र यादव उर्फ लाला उर्फ फौजी की पत्नी व ससुर को जान से मारने के लिए 10 लाख रूपये की सुपारी ली थी।जिसमें से 4 लाख रूपये एडवांस के रूप में राजू भाटी के द्वारा प्राप्त करने की बात कबूल की गयी।बाकी 6 लाख रूपये हत्या करने के बाद रकम प्राप्त करने की बात हुयी थी।

बताते चले कि नरेन्द्र यादव लाला उर्फ फौजी का अपनी पत्नी एवं ससुर से विवाद चल रहा है। फौजी की पत्नी एवं ससुर जनपद अलीगढ में रहते है व उन्होंने न्यायालय मे फौजी के खिलाफ एक मामला भी डाल रखा था जिसकी वजह से लाला उर्फ फौजी को जेल भी जाना पड़ा था। इसी वजह से लाला ने अपनी पत्नी व ससुर की हत्या करने लिए उक्त अभियुक्तों को सुपारी दी थी।अभियुक्तगणों के द्वारा जनपद नोएडा में भी कई हत्या की गयी है एवं जनपद के विभिन्न थानो में हत्या लूट ,हत्या का प्रयास,फिरौती लेने आदि अभियोग पंजीकृत है। ये बात भी पता चली है कि अभियुक्त सुन्दर भाटी गैंग के लिये काम करते थे। अभियुक्तो का काफी लम्बा अपराधिक इतिहास है ।

Shiv Kumar Mishra
Next Story
Share it